हैदराबाद : मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) आगामी 10 फरवरी को मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकते हैं। विलंब से किये जा रहे मंत्रिमंडल में 10 से 15 विधायकों को मंत्री पद मिल सकता है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, केसीआर ने पार्टी के दो मुख्य नेता के टी रामाराव (केटीआर) और हरीश राव को इस बार मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का फैसला लिया है। हालांकि इस बारे में आधिकारिक रूप से कोई पुष्टि नहीं हुई है। विधानसभा चुनाव में लगभग 2 महीने बीत जाने के बावजूद अब तक केसीआर ने मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं किया है। इसके चलते कई विधायक मंत्रिमंडल में शामिल होने का इंतजार कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें :

“तेलंगाना में कैबिनेट गठन में देरी अपने आप में रिकॉर्ड”, बीजेपी ने लगाए तल्ख आरोप

सूत्रों का कहना है कि मंत्रिमंडल का विस्तार को लेकर मुहूर्त भी तय कर लिया गया है कल रविवार को वसंत पंचमी को मुख्यमंत्री शुभ मान रहे है। पहले चरण के मंत्रिमंडल में 10 से 15 विधायकों को शामिल किया जा सकता है। नवनिर्वाचित कुछ नये विधायकों को भी मंत्रिमंडल में शामिल किये जाने पर विचार किया जा रहे हैं।

यह भी पता चला है कि इससे पहले जिन मंत्रियों का कामकाज ठीक नहीं रहा है इस बार उन्हें मंत्रिमंडल में जगह मिलने की संभावना नहीं है। राजनीतिक हलकों में इस बात को लेकर काफी चर्चा है कि पार्टी के मुख्य नेता हरीश राव और केटीआर को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया जाएगा। आपको बता दें कि केटीआर को पहले ही टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया।

विश्लेषकों का मानना है कि आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए हरीश राव को कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपने का निर्णय लिया गया है। सूत्र बताते हैं कि मंत्रिमंडल में महिलाओं के अलावा सभी सामाजिक वर्गों के विधायकों को मंत्री मंडल में शामिल किया जा सकता है।

सूत्रों से यह भी पता चला है कि आदिलाबाद जिले से जोगु रामन्ना, अजमीरा रेखा नायक और कोनेरु कोनप्पा को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है। इसी क्रम में निजामाबाद से वेमुला प्रशांत रेड्डी, बाजी रेड्डी गोवर्दन और आकुला ललिता, करीमनगर से ईटेला राजेंदर, कोप्पुला ईश्वर और गंगुला कमलाकर, मेदक से तन्नीरु हरीश राव, सोलिपेट रामलिंगा रेड्डी और पद्मा देवेंदर रेड्डी, रंगारेड्डी से मंचीरेड्डी किशन रेड्डी, केपी विवेकानंद गौड़ और अरिकेपुडी गांधी को मंत्रिमंडल में शामिल किये जाने की संभावना है।

इसी तरह हैदराबाद से तलसानी श्रीनिवास यादव, टी पद्माराव गौड़ और दानम नागेंदर, महबूबनगर से सिंगीरेड्डी निरंजन रेड्डी, सी लक्ष्मा रेड्डी और पी नरेंदर रेड्डी, नलगोंडा से जी जगदीश रेड्डी, गोंगिडी सुनिता, आर रवींद्र नायक, गुत्ता सुखेंदर रेड्डी, वरंगल से एर्राबल्ली दयाकर राव, कडियम श्रीहरि, अरुर रमेश और डी एस रेड्यानायक तथा खम्मम जिले से पल्ला राजेश्वर रेड्डी, पुव्वाडा अजय कुमार को मंत्रिमंडल में मौका मिलने की संभावना है।