हैदराबाद : मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों का विकास होने पर ही देश का सर्वांगीण विकास होगा। केसीआर ने प्रगति भवन में नव निर्वाचित सरपंचों, वार्ड मेंबर्स और ग्राम पंचायत सचिवों को प्रशिक्षण देने वाले की एक बैठक में यह बात कही।

उन्होंने आगे कहा कि नवनिर्वाचित सरपंच, वार्ड मेंबर्स और ग्राम सचिवों को लोगों के साथ मिलकर काम करना चाहिए। मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों को केंद्र बनाकर विकास योजनाओं की हमलावरी की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें :

दिल्ली में ‘किंगमेकर’ होंगे KCR, ‘फेडरल फ्रंट’ का अहम रोल - नरसिम्हा रेड्डी

वाईएस जगन ने तिरुपति से किया चुनाव प्रचार का शंखनाद, पार्टी की जीत के लिए एकजुट होने का आह्वान

केसीआर और अन्य
केसीआर और अन्य

मुख्यमंत्री ने बताया कि ग्राम पंचायत के लिए आवश्यक राशि शीघ्र ही आवंटित की जाएगी। इसके लिए आवश्यक नियम और दिश-निर्देश भी जल्द ही जारी किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि निर्देशित कार्य की जिम्मेदारी सरपंच, वार्ड मेंबर्स और पंचायत सचिवों को दी जाएगी। आप सभी अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे ऐसी अपेक्षा है।

नवनिर्वाचित सरपंच और अन्य
नवनिर्वाचित सरपंच और अन्य

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि पेयजल, बिजली आपूर्ति और सड़कों का निर्माण कार्य राज्य सरकार कर रही है। इस बात को ध्यान में रखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में हरियाली, स्वच्छता और श्मशान वाटिका आदि निर्माण के प्रति ग्राम पंचायतों को अधिक ध्यान देना होगा।

सरपंचों को दी जाने वाले भोजन का निरीक्षण करते हुए केसीआर
सरपंचों को दी जाने वाले भोजन का निरीक्षण करते हुए केसीआर

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम पंचायतों के लिए अधिकारों को स्थानांतरित करने के साथ साथ आवश्यक राशि भी जारी करेंगे। मगर कोई भी व्यक्ति राशि का दुरुपयोग करते हुए पाया जाता है तो उनके खिलाफ कठोर कदम उठाने से भी पीछे नहीं हटेंगे।