तेलंगाना में दो तेंदुओं की संदेहास्पद मौत, चार लोग गिरफ्तार, बाघ के नाखून और दांत बरामद

तार में फंसकर मरा हुआ तेंदुआ - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना में दो तेंदुओं की संदेहास्पद हालत में मौत हो गई। एक तेंदुए की मौत मंचीरियाल वन क्षेत्र में शिकारियों द्वारा बिछाये गये जाल में फंसने से हुई, जबकि दूसरे तेंदुए के कंकाल निजामाबाद जिले के वन क्षेत्र में मिले हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मंचीरियाल जिले के बीट रंगमपेट जंगल में शिकारियों ने एक पेड़ की डाल को वायर से बांध रखा था। इसी क्रम में उस ओर आया एक तेंदुआ उस वायर में फंस गया और उसकी मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें :

आंध्र में अज्ञात वाहन के टक्कर मारने से तेंदुए की मौत

AP में मृत तेंदुआ मिला, मारने वालों को पकड़ने की कोशिश तेज

घटना की सूचना मिलने के तुरंत बाद वन अधिकारी मौके पर पहुंचे और मरे हुए तेंदुए की जांच के बाद बताया कि इसकी मौत करीब तीन दिन पहले हुई है। उन्होंने कहा कि तेंदुए की मौत के लिए जिम्मेदार लोगों की धरपकड़ के लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे।

दूसरी ओर, निजमाबाद जिले के माकलूर मंडल क्षेत्र के मामिडिपल्ली गांव के पास वन में एक तेंदुआ संदेहास्पद हालत मृत पाया गया। अधिकारियों ने बताया कि बीते 4 जनवरी को एक तेंदुआ आम के बगीचे की सुरक्षा के लिए बिछाये गये तार फंस गया। मगर शाम को उस तार के चंगुल से निकल में सफल रहा। मगर बगीचे से थोड़ी दूरी पर एक मरे हुए तेंदुए का कंकाल मिले। उन्होंने संदेह व्यक्त किया ये कंकाल बगीचे के तार में फंसा हुआ तेंदुआ यही सो सकते हैं।

वन अधिकारियों ने इस सिलसिल में गुत्पा तांडा निवासी रवि कुमार, तुलसीराम, नरेंदर और विजय को हिरासत में लिया। साथ ही इनके पास से बाघ के 7 नाखून और 4 दांत भी बरामद किया है। उन्होंने तेंदुए के कंकाल को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। इस संबंध में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है।

Advertisement
Back to Top