हैदराबाद : AIMIM के सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी ने तेलंगाना के चुनावी नतीजों पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि टीआरएस की जीत आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री व टीडीपी प्रमुख नारा चंद्रबाबू नायडू और राहुल गांधी के गाल पर तमाचा है। उन्होंने कहा कि टीडीपी न केवल तेलंगाना बल्कि आंध्र प्रदेश में सत्ता विरोधी लहर में चंद्रबाबू नायडू का सूफड़ा साफ होना तय है।

उन्होंने कहा कि वह पहले से कहते आ रहे हैं कि तेलंगाना में टीआरएस की जीत सुनिश्चित है और कांग्रेस नीत प्रजाकूटमी केसीआर की सुनामी के सामने टिक नहीं पाएगी। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू नायडू ने तेलंगाना के लोगों को बरगलाने के लिए आंध्र से सैकड़ों करोड़ रुपये यहां लाकर खर्च किया।

उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू नायडू और राहुल गांधी को समझना चाहिए कि तेलंगाना में बसे आंध्र के लोग भी टीआरएस की सरकार से खुश हैं। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू नायडू और उनके चमचों की यहां गाल गलने वाली नहीं है और यही हाल अगले लोकसभा चुनाव के साथ होने वाले आंध्र प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भी बाबू की टीडीपी का यही हाल होगा।

इसे भी पढ़ें :

KCR को तेलंगाना चुनाव में TRS की भारी जीत पर दी YS जगन ने बधाई !

ओवैसी किस तबके के हैं नेता? चुनावी चर्चा में अहम सवाल

उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है और अगले साल होने वाले चुनाव में उनकी पार्टी का अस्थित्व मिटना तय है। गौरतलब है कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव में टीआरएस प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है, जबकि कांग्रेस नीत प्रजाकूटमी को 22 सीटों पर सिमटती नजर आ रही है।

उन्होंने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में टीडीपी को एक भी लोकसभा सीट नहीं मिलने जा रही है। ओवैसी ने कहा कि जैसे चंद्रबाबू नायडू तेलंगाना में आकर चुनाव प्रचार किया, ठीक उसी तरह हम भी आंध्र प्रदेश में जाकर टीडीपी सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करेंगे और उनकी हार का कारण बनेंगे।