हैदराबाद : एमआईएम के प्रमुख व हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायडू पर तीखी टिप्पणी करते हुए कहा है कि जब 2002 में गुजरात में दंगे हुए थे, तब टीडीपी प्रमुख तत्कालीन राजग सरकार के सहयोगी रही।

ओवैसी ने अपने ट्विटर पर ट्वीट किया है कि चंद्रबाबू जब मुख्यमंत्री थे, सभी अखलाक पहलू खान, रोहित, जुनैद, अलीमुद्दीन की हत्या हुई थी। अजीज और आजम का एनकाउंटर भी चंद्रबाबू नायडू के शासनकाल में ही हुए थे।

मुसलमानों पर हमले और हत्या के लिए जिम्मेदार चंद्रबाबू नायडू का अब अचानक सेक्युलरिज्म के बारे में बातें करना शर्मनाक है। ओवैसी का यह ट्वीट ऐसे समय पर आया है जब चंद्रबाबू नायडू भाजपा से नाता तोड़ने के बाद कांग्रेस से दोस्ती कर बैठे हैं।