तेलंगाना विधानसभा भंग करने के खिलाफ उच्च न्यायालय में दायर याचिका खारिज

कॉन्सेप्ट फोटो - Sakshi Samachar

हैदराबाद: समयावधि से पहले विधानसभा भंग करने के खिलाफ उच्च न्यायालय में याचिका दायर की गई। इस याचिका को उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया। यह याचिका अधिवक्ता रापोलु भास्कर ने उच्च न्यायालय में दायर की।

याचिका में बताया गया कि विधानसभा की समयावधि पूरी होने से 9 महिने पहले विधानसभा भंग कर दी गई। इससे राज्य का विकास प्रभावित हुआ है। साथ ही लोकतंत्र की अवहेलना की गई है।

इसे भी पढ़ें:

कोर्ट की नोटिस पर रेवंत रेड्डी जवाब, “चुनाव में बिजी हूं, मुश्किल है आना”

उच्च न्यायालय में अपनी सुनवाई में कहा है कि याचिका दिए गए विषयों को लेकर कोई ठोस सबूत प्रस्तुत नहीं किए गए हैं। विधानसभा भंग करने से राज्य के विकास पर कोई प्रभाव नहीं होगा। विधानसभा भंग करने से लोकतंत्र या कानून की उल्लंघन नहीं हुआ है। न्यायालय ने आगे कहा है कि केवल राजनीतिक अडचनों के लिए याचिका दायर की गई है। इने मुद्दों पर न्यायपीठ ने याचिका को खारिज कर दिया है।

Advertisement
Back to Top