हैदराबाद: ऐतिहासिक गौलीगुड़ा बस स्टैंड (सीबीएस) ढह गया। इस समय बस स्टैंड में बसें या यात्री नहीं थे, जिससे जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। हैदराबाद में पहला बस स्टैंड गौलीगुड़ा का है। बस स्टैंड पुरी तरह से शिथिलावस्था में था। अभियंताओं ने इस संदर्भ में सूचना दी थी, जिस पर 30 जून से इस बस स्टैंड को बसों और यात्रियों के लिए बंद कर दिया गया था।

बता दें कि इस बस स्टैंड का निर्माण 88 वर्ष पूर्व किया गया था। मुसी नदी के किनारे अर्धचंद्राकार में बस स्टैंड बनाया और इसका शेड़ निजाम बस स्टैंड की तर्ज पर बनाया था।

इसे भी पढ़ें :

तमिलनाडु : बस स्टैंड की छत गिरने से 9 की मौत, मलबे में फंसे हैं कई यात्री

जून, 1932 में गौलीगुड़ा बस स्टैंड बनाया गया। 30 प्लेटफार्मवाले बस स्टैंड में 27 बसें ठहरने की व्यवस्था की गई थी। गौलीगुड़ा बस स्टैंड से विभिन्न क्षेत्रों के लिए बसें चलाई जाती थीं। 166 लोगों ने निजाम सड़क ट्रांसपोर्ट के कर्मचारियों के साथ सेवाएं शुरू हुई थी। वर्ष 1994 के बाद बस स्टैंड का उपयोग केवल लोकल बसों के लिए किया गया था।