राजा सिंह ने पवन कल्याण को दी चेतावनी, मांगें माफी वरना ... 

राजासिंह ने दी पवन कल्याण को माफी मांगने के लिए कहा  - Sakshi Samachar

हैदराबाद: भाजपा विधायक राजासिंह ने हिंदू धर्म पर जनसेना पार्टी के अध्यक्ष पवन कल्याण की टिप्पणी की निंदा की है। राजासिंह ने पवन कल्याण पर गुस्सा व्यक्त करते हुए कहा कि हिंदू धर्म के बारे में बिना किसी समझ के हिंदू धर्म और हिंदू धर्म के लोगों व नेताओं की आलोचना की।

राजासिंह ने कहा कि आखिर यह सारी बातें पवन क्यों कह रहे हैं और उनका उद्देश्य क्या है वे साफतौर पर बताएंगे तो उन्हें उनकी भाषा में जवाब दिया जाएगा। राजासिंह ने सवाल किया कि आखिर पवन कल्याण किस धर्म के हैं, क्या उन्होंने अपना धर्मांतरण करवा लिया है। उनका इस तरह हिंदू धर्म को टार्गेट करके कुछ भी उसके बारे में बोलना सही नहीं है।

राजासिंह ने कहा कि पवन हिंदू धर्म के बारे में कितना जानते हैं, क्या पता है उन्हें इसके इतिहास के बारे में, इसके गौरव के बारे में जो इस तरह सरेआम वे इस पर ऐसे बयान दे रहे हैं।

इसके बाद राजासिंह ने कहा कि पवन ने एक तुच्छ सी पार्टी बना ली है जनसेना और इसके अध्यक्ष बन गए हैं। ऐसी पार्टी के अध्यक्ष बनकर पता नहीं वे अपने आपको क्या समझ रहे हैं जो ऐसे बयान दे रहे हैं हिंदुओं पर।

राजासिंह ने पवन कल्याण से यह भी पूछा कि ऐसे बयान को वे इस समय किस उद्देश्य से दे रहे हैं, अभी तो चुनाव भी नहीं है, वे भी हो चुके हैं तो इस समय ऐसे बयान का क्या मतलब हो सकता है या फिर वे कहीं भी, कुछ भी कह देते हैं बिना कुछ सोचे-समझे।

पवन कल्याण से सवाल पूछते हुए राजासिंह कह रहे हैं कि क्या पवन की इस पार्टी में कोई हिंदू नहीं है, क्या उन्हें हिंदुओं से कोई निजी दुश्मनी है जो वे इस तरह की बातें हिंदुओं के बारे में कह रहे हैं।

राजासिंह ने कहा कि अगर तुरंत पवन कल्याण ने अपना बयान वापस नहीं लिया, इस बयान के लिए माफी नहीं मांगी तो इसका खामियाजा उन्हें भविष्य में भुगतना पड़ सकता है।

अगर वे अपने किये पर पछताकर माफी मांग लेंगे तो हम उन्हें माफ कर देंगे वरना आगे जाकर वे पछताने लायक भी नहीं रहेंगे।

वहीं यह भी ज्ञात हो कि सोमवार को पवन कल्याण ने तिरुपति में एक सभा को संबोधित करते हुए टिप्पणी की थी कि धार्मिक राजनीति हिंदू राजनीतिक नेताओं द्वारा ही की जाती है।

पवन ने हिंदू नेताओं पर आरोप लगाते हुए कहा था कि हिंदू नेता ही विभिन्न धर्मों के बीच दंगे करवाते हैं। अन्य धर्म के नेता ऐसा कुछ नहीं करते। उन्होंने टीटीडी में हिंदुओं पर बुतपरस्ती को बढ़ावा देने का भी आरोप लगाया। पवन ने कहा कि ऐसी चीजें हिंदू नेताओं की प्रेरणा के बिना नहीं हो सकती।

इसे भी पढ़ें :

राजा सिंह ने केसीआर को बताया हिटलर, ठहराया कर्मचारियों की मौत का जिम्मेदार

दिल्ली पहुंचे सीएम केसीआर, पीएम मोदी से करेंगे मुलाकात, अहम मुद्दों पर होगी चर्चा

पवन ने आगे कहा कि वे बचपन से यही सुन रहे हैं कि सेकुलरिज्म की सबसे बड़ी रुकावट हिंदू ही हैं। अन्य धर्म के लोग ऐसा कुछ नहीं करते।

वहीं पवन कल्याण की ये टिप्पणी सुर्खियों में है जिसका कई लोग विरोध कर रहे हैं। राजासिंह ने भी इसी टिप्पणी का विरोध करते हुए आक्रोश व्यक्त किया है।

Advertisement
Back to Top