हैदराबाद : मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) तेलंगाना राज्य सड़क परिवहन निगम (टीएसआरटीसी) कर्मचारियों की जारी हड़ताल पर महत्वपूर्ण फैसला ले सकते हैं। केसीआर आज आरटीसी की हड़ताल पर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। साथ ही इस मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसला लिया जाएगा।

गौरतल है कि केसीआर ने पिछले गुरुवार को कहा था कि रूटों के निजीकरण को लेकर तेलंगाना हाईकोर्ट के फैसले के बाद इस मुद्दे पर विचार करके अंतिम फैसला लिया जाएगा।

इसी क्रम में हाईकोर्ट ने 5,100 रूटों को निजीकरण किये जाने के मंत्रिमंडल के फैसले को हरी झंडी दिखाई है। हाईकोर्ट के फैसले की प्रति सोमवार को सरकार को मिल जाएगी। यह प्रति मिलते ही केसीआर अधिकारियों के साथ बैठक में समीक्षा करेंगे और जारी आरटीस की हड़ताल पर महत्वपूर्ण फैसला लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:

हैदराबाद में अब एक ही पिलर पर दौड़ेंगी मेट्रो व कारें, ऐसी हो रही है तैयारी

TSRTC Strike: वर्तमान हालात में आरटीसी को रन करना सरकार के लिए असंभव : KCR

आपको बता दें कि सुनवाई को दौरान सरकार ने कहा था कि आरटीसी को चलाने के लिए 640 करोड़ रुपये चाहिए। इतनी भारी रकम वहन करने की शक्ति निगम के पास नहीं है। साथ ही यह भी कहा था कि इस संकट से निजात पाने के लिए किराया बढ़ाना ही एक मात्र मार्ग है। मगर किराया बढ़ाया गया तो इसका भार जनसामान्य पर पढ़ेगा।

ऐसे हालत में आरटीसी को इस हालत में रन करना सरकार के बस की बात नहीं है। इन हालतों को देखते हुए सरकार आरटीसी के भविष्य पर कठोर फैसला ले सकती है। रूटों के निजीकरण को हरी झंडी मिलते ही परिवहन विभाग ने मुसायदा प्रस्ताव को तैयार किया है।

यह भी पढ़ें:

बायोडायवर्सिटी फ्लाईओवर 3 दिन के लिए बंद, मृतक महिला के परिजन को 5 लाख अनुग्रह राशि

हैदराबाद में बायोडाइवर्सिटी फ्लाईओवर से नीचे कार गिरी, महिला की मौत

पता चला है कि सोमवार को होने वाली समीक्षा बैठक में इस विषय पर महत्वपूर्ण फैसला लिया जाएगा। दूसरी ओर आरटीसी जेएसी के बिना शर्त ड्यूटी पर ज्वाइन होने के प्रस्ताव पर भी सरकार की ओर से अब तक किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं आई है। इसके चलते कर्मचारी सरकार के फैसले की ओर नजर लगाये बैठे हैं। सरकार भी जारी हड़ताल पर महत्वपूर्ण फैसला ले सकती है।