सप्त सरस्वती समार्चना कार्यक्रम में हरीश राव ने लिया भाग, बोले-25 हजार मूर्तियों का मंदिर अद्भूत 

सप्त सरस्वती समार्चना कार्यक्रम में हरीश राव - Sakshi Samachar

हैदराबाद : वित्त मंत्री हरीश राव ने संगारेड्डी जिले में आयोजित सप्त सरस्वती समार्चना कार्यक्रम में भाग लिया। वित्त मंत्री ने शनिवार को सप्त सरस्वती समार्चना उत्सव में शामिल हुए। इस अवसर पर हरीश राव ने कहा कि दिल्ली में आयोध्या मामले का फैसला आया है। सप्त सरस्वती समार्चना कार्यक्रम में भाग लेना मेरे लिए सौभाग्य की बात है।

मंत्री ने आगे कहा, "पूर्व काल में हमने पत्थरों की मूर्तियों के बारे में सुना है। यहां पर महेश्वर सिद्धांति को निर्मित किया जा रह है। यह एक ऐतिहासिक निर्माण है। इस निर्माण की कल्पना नहीं की जा सकती है। मंदिर में 236 विशेषताएं है। यह निर्माण अद्भूत है। 25 हजार भगवान की मूर्तियों के साथ संगारेड्डी में मंदिर का निर्माण किया जाना स्थानीय लोगों का सौभाग्य है। मंदिर के निर्माण के लिए आवश्यक सहायता की जाएगी।"

हरीश राव ने यह भी कहा कि मानव सेवा ही माधव सेवा है। मगर लोग यह भूलकर गलत राह भटक रहे हैं। इंसान के किये हुए अच्छे काम ही याद किये जाते हैं। मानसिक शांति केवल भक्ति भाव में प्राप्त होते हैं। आप चाहे कितने भी काम करें और कितने भी पदों पर बने रहे, मगर मन को शांति नहीं तो ये सब बेकार हैं।

इसे भी पढ़ें :

‘चलो टैंक बंड’ को पुलिस की अनुमति नहीं, JAC ने कर्मचारियों से हैदराबाद पहुंचने का किया आह्वान

Video : RTC JAC के चलो टैंक बंड में लाठीचार्ज, अनेक घायल, नेताओं ने कहा-सक्सेस

Advertisement
Back to Top