TSRTC Strike: के केशव राव का U-टर्न, बोले-मैं कौन होता हूं मध्यस्थता करने वाला

के. केशव राव - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना आरटीसी कर्मचारियों की हड़ताल के चलते मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने चर्चा करने का सवाल नहीं करने की घोषणा की। इसी बीच टीआरएस के नेता और सांसद के केशव राव (केके) ने सरकार और कर्मचारियों की बीच मध्यस्थता करने के लिए तैयार होने का बयान जारी करके कल खलबली मचा दी थी। इसके बाद उत्पन्न हालात के चलते केके ने अपना बयान बदल दिया। सांसद ने कहा कि मध्यस्थता करने का मेरे पास कोई अधिकार नहीं है। यह सरकार की समस्या है। पार्टी की समस्या नहीं है।

केके ने मंगलवार को मीडिया से कहा, "तेलंगाना में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। सरकार और कर्मचारी दोनों मिलकर बातचीत करके समस्या का समधान निकालने की मैंने बात कही थी। आरटीसी कर्मचारियों के साथ चर्चा करने की बात मैंने कभी भी नहीं कही है। फिर भी यदि अच्छा होता है तो मैं मधस्थता करने के लिए तैयार है। आरटीसी के कर्मचारियों के साथ मैं बातचीत करने के लिए तैयार हूं। ऐसा होता है तो यह अच्छा परिणाम है।"

सांसद ने कहा कि सरकार की ओर से चर्चा करने को लेकर किसी प्रकार का निर्देश नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हालात को लेकर मुख्यमंत्री से बातचीत करने की कोशिश करेंगे। मगर मुख्यमंत्री अब तक संपर्क में नहीं आये हैं। वह एक समाजवादी है। इसीलिए कर्मचारियों का पक्ष लेता हूं। कर्मचारी संघ लड़ाई झगडा छोड़कर मिलकर रहे। यदि सरकार आरटीसी को विलय करे तो मुझे कोई आपत्ति नही हैं। मगर आरटीसी का सरकार में विलय उतना आसान मसला नहीं है। यह मेरा निजी बयान है। सरकार उद्देश्य क्या है मुझे मालूम नहीं है। यदि मालूम हुआ तो समस्या का हल हो जाता।

इसे भी पढ़ें :

TSRTC हड़ताल पर बोले पवन कल्याण, आत्महत्याओँ से आंदोलन हुआ गंभीर

हड़ताल पर नरम पड़ी तेलंगाना सरकार, के केशवराव कर रहे हैं मध्यस्थता

Advertisement
Back to Top