हैदराबाद : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तेलंगाना इकाई ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के मामले में कांग्रेस और मजलिस पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं। तेलंगाना के बीजेपी अध्यक्ष डॉक्टर के लक्ष्मण और पूर्व सांसद डॉ विवेक ने सोमवार को पार्टी कार्यालय में मीडिया से यह बात कही।

उन्होंने आगे कहा कि संसद में कांग्रेस और मजलिस पार्टियों के नेता द्वारा कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा कहने पर लगभग सभी दलों के सांसदों ने उनकी आलोचना की। इसके बावजूद टीआरएस और मजलिस के सांसदों ने कांग्रेसी नेताओं के बयान पर आपत्ति नहीं प्रकट की है।

लक्ष्मण ने यह भी कहा कि तेलंगाना को स्वर्णिम और लोकतांत्रिक तेलंगाना बनाने के बजाय मुख्यमंत्री केसीआर ने कमीशन और कर्जों का तेलंगाना बना दिया है।

यह भी पढ़ें:

आंध्र प्रदेश की गोशाला में 100 गायों की मौत से हड़कंप, लगाए जा रहे यह आरोप

राजा सिंह ने किया ताडेपल्ली गौशाला का दौरा, किया षड्यंत्र का पर्दाफाश करने की मांग

नेताओं ने आरोप लगाया कि तेलंगाना आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले हरीश राव को बाजू में रख दिया है। साथ ही अपने बेटे केटीआर को प्राथमिकता देते आ रहे हैं। (बीजेपी मुख्यालय में सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए बंडारू दत्तात्रेय चिंता से मुक्ति सुधाकर शर्मा मुलेठी सुधाकर रेड्डी सोमलपुर सत्यनारायण और अन्य के साथ मिलकर संवादाता से यह बात कही)

इस अवसर पर बीजेपी नेताओं ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी और कांग्रेस के प्रभारी तेलंगाना प्रभारी खुंटिया ने तेलंगाना गठन के विषय में गृहमंत्री अमित शाह पर झूठे आरोप लगा रहे हैंष। बीजेपी के नेताओं ने कहा कि तेलंगाना आंदोलन के दौरान उत्तम कुमार रेड्डी और खुंटिया कहीं पर भी नजर नहीं आए। अब तेलंगाना के विषय में बयानबाजी करते हुए तेलंगाना की जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

नेताओं ने बताया कि इस माह की 18 तारीख को पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा हैदराबाद आएंगे। इस दौरान अनेक कांग्रेस, टीडीपी और टीआरएस के कई नेता बीजेपी में शामिल होंगे। उन्होंने यह भी बताया कि आगामी 17 सितंबर को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के नेतृत्व में हैदराबाद मुक्ति दिवस मनाया जाएगा।