आदिलाबाद : सांसद सोयम बापूराव ने कहा कि बंजर भूमि पर तेरास के नेतृत्व में बनी राज्य सरकार अवैध कब्जा करने का प्रयास कर रही है। हरित हारम की आड़ में आदिवासियों की भूमि पर पौधरोपण कर राज्य सरकार आदिवासियों के साथ अन्याय कर रही है। वन क्षेत्र में बंजर भूमि पर आदिवासी खेती करते आ रहे हैं और सरकार उस भूमि पर पौधरोपण कर आदिवासियों की भूमि हथिया रही है।

सांसद सोयम बापूराव ने उटनूर मंडल के मतिडीगुड़ा में आदिवासी नेता सिडाम शंभू की पहली पुण्यतिथि कार्यक्रम में आरोप लगाया कि आदिवासियों को वन अधिकारियों पर हमला करने के लिए परोक्ष रूप से राज्य सरकार द्वारा उकसाया जा रहा है। राज्य सरकार बंजर भूमि पर पौधरोपण कर आदिवासियों के साथ अन्याय कर रही है। आदिवासियों की परंपरागत खेती को राज्य सरकार प्रभावित कर रही है।

आदिलाबाद के सांसद ने सरसाला में वन अधिकारी चोले अनिता पर हमले की घटना को दोहराया। उन्होंने कहा कि आदिवासी वन अधिकारियों के खिलाफ नहीं है, बल्कि राज्य सरकार परोक्ष रूप से ऐसा करने के लिए आदिवासियों को उकसा रही है। टीआरएस ने इस घटना पर चुप्पी साध रखी है। उन्होंने आदिवासी अनुसूचित जनजातियों और अन्य पारंपारिक वन ( वन अधिकारों की मान्यता ) अधिनियम -2016 के तहत वन भूमि खेती पर आदिवासियों के अधिकारों को मान्यता देने की मांग की है।

इसे भी पढ़ें :

सोयम बापू राव ने आदिवासी लड़कियों का पीछा नहीं करने की दी चेतावनी, इस विवाद में फंसे भाजपा सांसद

सर्वोच्च न्यायालय ने तेलंगाना सरकार को भेजा नोटिस

सांसद सोयम बापूराव ने केसीआर के नेतृत्व में बनी राज्य सरकार की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि मिशन भगीरथ और मिशन काकतिया में बड़े पैमाने पर धांधलियां बरती गई हैं।