कांग्रेस पार्टी ने अब मजलिस का भी विरोध करने का फैसला किया है। माना जा रहा है कि तेलंगाना राष्ट्र समिति की सहयोगी पार्टी एआईएमआईएम को जल्द ही विधानसभा के अध्यक्ष विरोधी दल की मान्यता दे सकते हैं।

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद कैप्टन उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा है कि एक साजिश के तहत अवैध रूप से पहले तो कांग्रेस के विधायकों को तेलंगाना राष्ट्र समिति में शामिल कराया गया और अब मजलिस पार्टी को मुख्य विपक्षी दल का हक देने की सोची समझी साजिश की जा रही है। इसको लेकर कांग्रेस पार्टी जनता में आवाज उठाने की तैयारी करेगी।

उत्तम कुमार रेड्डी ने साफ-साफ कहा कि अगर मुख्य विपक्षी दल का दर्जा एआईएमआईएम को दिया जाता है तो कांग्रेस पार्टी पूरे तेलंगाना में जनता के बीच जाएगी और इस बिल का विरोध करेगी।

इसे भी पढ़ें :

टीआरएस-कांग्रेस विलय के विरोध में कांग्रेस नेता भट्टी विक्रमार्क का अनशन खत्म

उत्तम कुमार रेड्डी ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और मनमाने तरीके से काम करने वाले स्पीकर पर भी आरोप लगाए और कहा कि संविधान का उल्लंघन करने के साथ-साथ लोकतंत्र का गला घोटकर दल बदलूओं को प्रोत्साहित करने का काम किया और स्पीकर कर रहे हैं इसके खिलाफ जल्द ही राष्ट्रपति और न्यायालय तक मामले को ले जाया जाएगा।