हैदराबाद : तेलंगाना में कांग्रेस विधायक दल के नेता एम. भट्टी विक्रमार्क ने पार्टी के 12 विधायकों के ‘अवैध तरीके से' सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति में विलय के विरोध में शनिवार से 36 घंटे का अनशन शुरू किया। संपर्क किये जाने पर विक्रमार्क ने ‘पीटीआई-भाषा' को बताया कि वह ‘‘सत्याग्रह अनशन'' पर हैं।

शहर के धरना चौक स्थित प्रदर्शन स्थल पर तेलंगाना में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) मामलों के प्रभारी आर सी खूंटिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एन. उत्तम कुमार रेड्डी और पार्टी के कई नेता मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें :

दो-तिहाई विधायक TRS में, कांग्रेस का टीआरएस में विलय करने की मांग

वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए खूंटिया ने आरोप लगाया कि टीआरएस निरंकुश शासन को बढ़ावा देना चाहती है और कांग्रेस के विधायकों को पार्टी में मिलाकर राज्य में विपक्षी पार्टियों का ‘‘खात्मा'' करना चाहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के 12 विधायकों का टीआरएस में शामिल होना ‘‘अवैध और अलोकतांत्रिक'' है।