हैदराबाद : तेलंगाना मुख्यमंत्री कल्वकुंट्ला चंद्रशेखर राव (केसीआर) चुनाव के दौरान दिये गये एक वादे से मुकर गये। इसके चलते प्रदेश में आज लगभग एक हजार लोग सेवानिवृत्त हो जाएंगे।

आपको बता दें कि तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के अध्यक्ष केसीआर ने चुनावी घोषणापत्र में आश्वासन दिया था कि टीआरएस सरकार सत्ता में आने के बाद सेवानिवृत्ति की आयुसीमा को 58 से 61 वर्ष किया जाएगा। मगर केसीआर मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री केसीआर ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेकर 18 दिन बीत चुके है।

शपथ लेते हुए केसीआर
शपथ लेते हुए केसीआर

इसी क्रम में कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने हाल ही में दिसंबर महीने में सेवानिवृत्ति होने वालों इसका लाभ मिलने के लिए तेलंगाना सरकार को एक ज्ञापन भी सौंपा। मगर इस केसीआर ने अब तक इस ओर कोई आदेश जारी नहीं किया है। इसके चलते दिसंबर महीने में लगभग एक हजार लोगों को सेवानिवृत्ति होना अनिवार्य हो गया है।

इतना ही नहीं मुख्यमंत्री के रूप केसीआर और उपमुख्यमंत्री के रूप में महमूद अली ने गत 13 दिसंबर को शपथ ली थी। इसके बाद केसीआर मंत्रिमंडल का विस्तार तक नहीं किया है। मंत्रिमंडल को लेकर भी विधायकों में तनाव है। साथ ही मंत्री बनने के लिए पैरवी भी तेज करते नजर आ रहे है।

फेडरल फ्रंट गठन करने के लिए हाल ही में केसीआर ने कुछ राज्यों का दौरा करके भी लौट आये। इसी दौरान मीडिया के एक सवाल में केसीआर ने कहा कि सेवानिवृत्ति की आयुसीमा को 58 से 62 करने के आश्वासन पर कायम है। मगर इसके लिए जल्दबाजी नहीं की जाएगी।

प्रेम कुमार ने कहा...

प्रेम कुमार (फाइल फोटो)
प्रेम कुमार (फाइल फोटो)

कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की आयुसीमा को न बढ़ाये जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए डॉ बी आर अंबेडकर सार्वत्रिक विश्वविद्यालय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष के. प्रेम कुमार ने ‘साक्षी समचार’ से कहा कि मुख्यमंत्री केसीआर देश का ‘नंबर वन फ्राड’ व्यक्ति है। मुख्यमंत्री केसीआर केवल कर्मचारियों की वोट बटारने के लिए सेवानिवृत्ति की आयुसीमा बढ़ाने का आश्वासन दिया है। केसीआर के आश्वासन पर तेलंगाना के कर्माचारियों पर भरोसा नहीं है।

उन्होंने यह भी कहा चुनाव प्रचार के दौरान पीआरसी देने का भी केसीआर ने आश्वासन दिया था। अब कह रहे है कि कर्मचारियों को वेतन तो दिया जा रहा है। प्रेम कुमार ने सवाल किया हर बात को जल्दबाज नहीं करने वाले केसीआर ने नौ महीने पहले चुनाव क्यों कराये है?

प्रेम ने कहा कि केसीआर केवल वोट की राजनीति करते है। केसीआर जैसे व्यक्ति से लोगों को सावधान रहने की बहुत जरूरी है।