हैदराबाद: कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य पोंगुलेटी सुधाकर रेड्डी ने कहा कि आंध्र प्रदेश पुनर्विभाजन कानून को अमल में लाने में केंद्र सरकार असफल रही है। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू की इस बात पर कतई यकीन नहीं किया जा सकता है कि परियोजना के निर्माण से तेलंगाना को कोई नुकसान नहीं होगा।

चंद्रबाबू नायडू ने पोलावरम परियोजना के नाम पर लोगों को मझधार में छोड़ दिया है। पोंगुलेटी ने याद दिलाया कि KCR ने पोलावरम परियोजना के संदर्भ में सर्वदलीय नेताओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास ले जाने की बात कही थी। अब तक KCR ने यह नहीं किया है।

इसे भी पढ़ें:

दिल्ली में तेलंगाना भवन न होना खेद की बात है : पोंगुलेटी

पोंगुलेटी सुधाकर उन्होंने कहा कि पोलावरम परियोजना का बैक वॉटर लेवल और बाढ़ की स्थिति की संभावना के मुद्दे पर ध्यान दिया जाना चाहिए। पोंगुलेटी ने कहा कि पोलावरम परियोजना को लेकर तेलंगाना सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर नहीं किया जाना शोचनीय है। KCR ने इस मुद्दे पर अब तक चुप्पी साध रखी है।