कांग्रेस की राह पर चल रहे KCR, दोनों दलों को सबक सिखाने की जरूरत : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - Sakshi Samachar

निजामाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तेलंगाना का गठन युवकों के बलिदान से बना है। मोदी ने स्थानीय गिरीराज कॉलेज मैदान में आयोजित तेलंगाना चुनावी सभा में यह बात कही है। मोदी ने चुनावी सभा का संबोधन की शुरुआत तेलुगु भाषा में बोलकर की । इसके बाद उनके हिन्दी में दिए गए भाषण का तेलुगु भाषा में अनुवाद करके जनता को समझाने की कोशिश गई।

उन्होंने आगे कहा कि टीआरएस प्रमुख मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने तेलंगाना चुनाव दिये गये एक भी आश्वासन को पूरा नहीं किया है। इस चुनाव के बाद टीआरएस से पाई-पाई हिसाब लिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें:

तेलंगाना चुनाव 2018 : मलकाजगिरी में सबसे अधिक 42 उम्मीदवार, जानिए सबसे कम

तेलंगाना विधानसभा चुनाव में इस सीट पर हैं सबसे अधिक उम्मीदवार

मोदी ने कहा कि टीआरएस सरकार ने दलितों, किसानों और युवकों को अनेक आश्वासन दिये थे। मगर इस सरकार ने सभी वर्गों के अरमानों पर पानी फेरा है। टीआरएस के नेता मान रहे है कि कांग्रेस पार्टी इतने सालों तक बिना कुछ किये ही जीतते आई है। हम भी ऐसी जीत जाएंगे। मगर वक्त बदल चुका है। तेलंगाना के लोग सच्चाई जान चुके है।

इसे भी पढ़ें:

यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी का तेलंगाना दौरा आज, मेड्चल में होगी चुनावी जनसभा

Telangana Elections 2018 : मैदान में 1,821 उम्मीदवार, आखिरी दिन वापस लिए गए 367 नामांकन

केसीआर ने जरूरत से ज्यादा आश्वासन तो दिए, लेकिन कोई आश्वासन पूरा नहीं किया। वायदा पूरा करने की इनकी नीति नहीं है। इतना नहीं केसीआर हमेशा असुरक्षा की भावना में जीते रहते हैं। इसीलिए वे अपने काम से ज्यादा ज्योतिष पर भरोसा करते रहते हैं।


केसीआर तो तेलंगाना का भला करने वाली केंद्र की योजनाओं को राज्य में लागू करने में कतरा रहे हैं। मोदी ने कहा कि टीआरएस और कांग्रेस पार्टी परिवारवाद पार्टी है। हाल ही में मेड्चल सभा में कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि टीआरएस पारिवारिक पार्टी है। ऐसा कहते समय सोनिया गांधी और राहुल गांधी एक मंच पर मौजूद थे। ये दो पार्टी पारिवारिक पार्टियां है।

मोदी ने कहा कि तेलंगाना में पांच लाख फ्री गैस कनेक्शन दिया गया है। देश में छह करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन दिया गया है। मैंने गरीबी को देखा है। मेरी मां को लकड़ी के चुल्हे पर खाना बनाया है। तब मेरी मां की आंखों मे आंसू बहता था। मैंने संकल्प लिया कि देश की करोड़ों माताओं को फ्री गैस कनेक्शन दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) और कांग्रेस पार्टियों में परिवार का शासन होने का आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों तेलंगाना विधानसभा चुनाव में ‘दोस्ताना मैच' खेल रहे हैं। समावेशी विकास के भाजपा के वादे को दोहराते हुए मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति ने दीमक की तरह विकास को नुकसान पहुंचाया है।

उन्होंने राज्य में अपनी पहली चुनावी जनसभा में निजामाबाद में कहा, ‘‘तेलंगाना के मुख्यमंत्री और उनका परिवार सोचता है कि वे कांग्रेस की तरह कोई काम नहीं करके निकल सकते हैं। उन्होंने कांग्रेस की शैली अपना ली, जिसने 50-52 साल तक बिना कुछ किये शासन किया, लेकिन अब यह नहीं चल सकता।''

मोदी ने कहा, ‘‘टीआरएस और कांग्रेस परिवार शासित पार्टियां हैं और तेलंगाना चुनाव में दोनों दोस्ताना मैच खेल रही हैं।'' के. चंद्रशेखर राव नीत टीआरएस सरकार पर वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने एक बार कहा था कि निजामाबाद को लंदन जैसे स्मार्ट शहर में बदल देंगे लेकिन यह शहर आज भी पानी, बिजली और अच्छी सड़कों की कमी से जूझ रहा है।

उन्होंने कहा कि राव ने असुरक्षा की भावना की वजह से आयुष्मान भारत योजना में भाग नहीं लिया जिसके तहत केंद्र सरकार गरीबों के पांच लाख रुपये तक के इलाज का खर्च उठाएगी।

मोदी ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री इतना असुरक्षित महसूस करते हैं कि वह ज्योतिषियों पर भरोसा करते हैं, पूजा करते हैं और नींबू-मिर्ची बांधते हैं। इसलिए जब हमने आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत की तो उन्होंने इसमें शामिल नहीं होने का फैसला किया। उन्हें डर था कि मोदीकेयर लागू हुई तो लोग उन्हें खारिज कर देंगे। उन्होंने राज्य की गरीब जनता के साथ नाइंसाफी की।''

प्रधानमंत्री ने इस तरह की खबरों पर भी प्रतिक्रिया व्यक्त की कि कांग्रेस ऐसा घोषणापत्र तैयार कर रही है जिसमें मुसलमानों के लिए अलग स्कूल और अस्पताल खोलने का प्रावधान होगा। इस पर मोदी ने कहा कि भाजपा केवल ‘सबका साथ, सबका विकास' के मंत्र को अपनाती है और वोट बैंक की राजनीति के खिलाफ है।

Advertisement
Back to Top