हैदराबाद : जन तेलंगाना पार्टी (जेटीपी) नामक एक और नई राजनीतिक पार्टी तेलंगाना में स्थापित हुई है। उस्मानिया विश्वविद्यालय (ओयू) के छात्रों ने जेटीपी को स्थापित किया है।

जेटीपी के संस्थापक अध्यक्ष और शोध छात्र कोर्वी बालकृष्ण मुदिराज ने मीडिया को यह जानकारी दी। उन्होंने आगे कहा कि तेलंगाना गठन होकर पांच साल बीच चुके है। मगर लोगों के जीवन में किसी प्रकार का सुधार नहीं हुआ है। इसके चलते जेटीपी को स्थापित किया गया है। बालकृष्ण ने यह भी कहा कि भारत संविधान दिवस के अवसर पर ओयू आर्ट्स महाविद्यालय परिसर में छात्रों के समक्ष्य पार्टी को स्थापित किया गया है।

यह भी पढ़ें :

Telangana Elections 2018 : पहली बार एक मंच पर दिखेंगे राहुल व चंद्रबाबू

इस खतरे की वजह से राहुल गांधी को OU जाने से रोक रही है टीआरएस सरकार

जेटीपी अध्यक्ष ने कहा कि तेलंगाना का गठन हुआ है। हमारे लोग ही शासन कर रहे हैं। मगर किसानों को नुकसान हो रहा है। चिकित्सा, शिक्षा और रोजगार के अवसर पर लुप्त हो रहे है। दूसरी ओर निजी विश्वविद्यालय स्थापित किये जाने की ओर कदम उठाये जा रहे है। जानबूझकर बेरोजगार युवकों को नौकरी और रोजगार से दूर किया जा रहा है। इतना नहीं, प्रदेश में भूस्वामी व्यवस्था को स्थापित करके लोगों को बंदुआ मजदूरी के लिए मजबूर किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें :

चंद्रबाबू की बहू ने राहुल गांधी की बैठक में हिस्सा लिया, तेदेपा की कांग्रेस से नजदीकी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिले चंद्रबाबू नायडू, कहा-गैर भाजपा दलों को एकजुट करना ही मकसद

उन्होंने कहा कि इस प्रकार अनेक मुद्दों पर विचार विमर्श करने के बाद ही नई पार्टी गठित की गई है। बालकृष्ण ने बताया कि छात्रों, बेरोजगार युवकों, किसानों और सभी वर्ग के लोगों को लेकर नई पार्टी काम करेगी। इस अवसर पर जेटीपी कार्यकारी अध्यक्ष सिद्दगौनी सुदर्शन, पार्टी के नेता गोपीकृष्ण, शिवा, लक्ष्मण व अन्य उपस्थित थे।