हैदराबाद : तेलंगाना सरकार के विशेष मुख्य सचिव पद से सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी विनोद कुमार अग्रवाल ने अविभाजित आंध्र प्रदेश के साथ साथ तेलंगाना सरकार में भी कई पदों पर अपनी सेवा दी है और एक अधिकारी के रूप में उन्होंने राज्य के कई मुख्यमंत्रियों के साथ काम किया। सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी ने राज्य के चार दिग्गज मुख्यमंत्रियों NTR, चंद्रबाबू, YSR व KCR के कामकाज के तरीके व उनकी खूबियों के बारे में चर्चा की। साक्षी समाचार के असिस्टेंट न्यूज एडिटर विजय तिवारी के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत करते हुए अपने अनुभव बांटे...

विशेष मुख्य सचिव पद से सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी विनोद कुमार अग्रवाल ने राज्य के मुख्यमंत्री एनटी रामाराव के बारे में कहा कि वह जनता के प्रति बेहद संवेदनशील थे और मीडिया के नकारात्मक रूख को भी दरकिनार करते हुए जनहित के कार्यों को गंभीरता के साथ किया करते थे।

वहीं, चंद्रबाबू नायडू के कामकाज के बारे में कहा कि चंद्रबाबू नायडू के पास और भी बेहतर काम करने का मौका था। मजबूत सरकार और कमजोर विपक्ष का फायदा उठाकर राज्य व हैदराबाद के विकास के लिए ढेर सारे काम कर सकते थे लेकिन वह इसको करने से बचते रहे। हालांकि उनके नाम हाईटेक सिटी सहित तमाम उपलब्धियां दर्ज हैं..

कांग्रेस पार्टी के नेता YS राजशेखर रेड्डी के बारे में कहा कि वह एक मजबूत इरादे वाले राजनेता थे और वे अपने अफसरों पर भरोसा करते थे। अगर कोई अधिकारी अपनी बात उनको समझा देता था तो वह उसके साथ हमेशा खड़े रहते थे। उन्होंने राज्य के हित में कई खास काम किए।

तेलंगाना के पहले मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के बारे में कहा कि आन्दोलन से निकले इस मुख्यमंत्री के अंदर चुनौतियों से लड़ने का जज्बा तो है और कई चैलेंजिंग कार्य भी कर दिखाए हैं, पर आज के हालात में उनसे अफसर, नेता, कार्यकर्ता या आम जनता का मिल पाना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है।