हैदराबाद: मुख्य चुनाव आयुक्त (CEC) ओ पी रावत के नेतृत्व में निर्वाचन आयोग की एक टीम ने मंगलवार को तेलंगाना में सात दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों का जायजा लिया और चुनाव को निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से कराने के आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए हैं।

यहां अपने तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन CEC ने ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (GHMC) कार्यालय में एक मोबाइल वैन सेवा का उद्धघाटन किया, जो मतदाताओं के बीच जागरूकता फैलाएगी। उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों और वोटर वैरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल (VVPAT) से लैस वैन का निरीक्षण भी किया।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने जिले के जिला अधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव के लिए अधिकारियों का निष्पक्ष और तटस्थ रहना जरूरी है।अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि चुनाव में नकदी के इस्तेमाल पर विशेष निगरानी रखी जानी चाहिए और किसी भी प्रत्याशी को चुनाव आचार संहिंता के निर्देश के अनुसार भी प्रचार-प्रसार करने की अनुमति दी जानी चाहिए।

अधिकारियों से बातचीत के दौरान निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि अधिक से अधिक मतदान को सुनिश्चित कराने के लिए वयोवृद्ध और दिव्यांग मतदाताओं को विशेष सुविधा देने की कोशिश की जानी चाहिए।

नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस बंदोबस्त के साथ साथ आवश्यक एहतियात बरतने के भी निर्देश जारी करते हुए कहा कि यहां पर सुरक्षा के साथ वही कोताही बरती नहीं जानी चाहिए और लोगों के अंदर स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान करने का हौसला बढ़ाया जाना चाहिए।

आपको बता दें कि मुख्य चुनाव आयुक्त ने अपने दो अन्य सहयोगी चुनाव आयुक्तों के साथ आयोग के अधिकारियों और 31 जिले के जिला अधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों के साथ एक-एक करके बातचीत की और चुनावी तैयारियों की गहन समीक्षा की।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने मतदाता सूची में गड़बड़ी की शिकायतों का निस्तारण करने के लिए चुनाव से जुड़े सभी अधिकारियों को निर्देशित किया और कहा कि इन शिकायतों का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाना चाहिए ताकि चुनाव प्रक्रिया पर किसी तरह का सवालिया निशान न लगे।

इसे भी पढ़ें:

हैदराबाद : मुख्य चुनाव आयुक्त ने चुनावी तैयारियों का लिया जायजा, नेताओं से की मुलाकात

रावत ने दिव्यांगों के लिए वोटर एक्सेसिबिलिटी एप (VADA) को भी लॉन्च किया और दिव्यांगों को मतदाता पहचान पत्र वितरित किए। रावत ने कहा कि चुनाव आयोग चुनावी गड़बड़ियों को रोकने के लिए पहली बार सी-विजिल एप का भी इस्तेमाल कर रहा है।

हैदराबाद के जिला निर्वाचन अधिकारी और GHMC के आयुक्त दाना किशोर ने चुनाव अधिकारियों को वादा एप के कार्यो के बारे में बताया। साथ ही उन्होंने इस एप से दिव्यांग मतदाताओं को होने वाली सहूलियत के बारे में भी जानकारी दी।