नई दिल्ली : जन नाट्य मंडली के व्यवस्थापक, लोक गायक और गीतकार गदर ने शुक्रवार को राहुल गांधी से मुलाकात की। इस दौरान गदर की पत्नी और उनके बेटे भी मौजूद थे।

इस अवसर पर राहुल गांधी ने लोकतंत्र की रक्षा और संविधान की गरिमा को बनाये रखने के लिए जारी आंदोलन को सहयोग करने की गदर से अपील की। राहुल गांधी एआईसीसी सचिव मधु याश्की गौड़ के साथ गदर से मुलाकात की।

यह भी पढ़ें:

तेलंगाना चुनाव : KCR को हराने के लिए गदर और KTR से टक्कर के लिए विमलक्का मैदान में

भट्टी की गदर से अपील, प्रजा सरकार स्थापित करने के लिए मांगा सहयोग

सूत्रों ने बताया कि महागठबंध के समर्थन में गदर को चुनाव प्रचार कराने को लेकर विचार किया जा रहा है। यदि गदर चुनाव प्रचार के लिए तैयार हो जाते है तो उन्हें उत्तर तेलंगाना और सिंगरेणी क्षेत्रों की चुनाव प्रचार कराने की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

यह भी पता चला है कि गदर अपने बेटे सूर्यकिरण को आने वाले चुनाव में बेल्लमपल्ली निर्वाचन क्षेत्र से और दो अन्य सहयोगियों कांग्रेस पार्टी टिकट देने की गदर मांग कर रहे हैं। साथ ही बेल्लमपल्ली टिकट की आस लगाये बैठे सीपीआई के पूर्व विधायक गुंडा मल्लेश को चुनाव से दूर रखने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सुरवरम सुधाकर रेड्डी से भी बातचीत किये जाने की संभावना है। पार्टी आलाकमान मान रही है कि राहुल गांधी और गदर के बीच जारी चर्चा सफल होगी।

गदर

राहुल गांधी से मुलाकात करने के बाद गदर ने मीडिया को बताया कि राहुल गांधी ने उनसे कांग्रेस पार्टी में शामिल होने का आग्रह किया है। मगर मैंने पार्टी में शामिल होने से इंकार किया है।

गदर ने आगे बताया कि उनके ऊपर कुछ साल पहले किये गये हमले की न्यायिक जांच कराने का राहुल गांधी ने आश्वासन दिया है। गदर ने बताया कि वह धर्मनिरपेक्ष पार्टी का सहयोग करेंगे। गदर ने कहा कि यदि तेलंगाना महागबंधन की सरकार बनती है तो प्रदेश में लोकतंत्र को स्थापित किया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि केसीआर ने दिये गये एक आश्वासन को पूरा नहीं किया है। तेलंगाना नया फ्यूडल राज चल रहा है।