TRS ने दो विधायकों को दिखाया बाहर का रास्ता, जानिए कौन हैं ये नेता

फाइल फोटो - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना में चुनावी वातावरण गरमाता जा रहा है। 105 उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने दो वर्तमान विधायकों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। बाहर का रास्ता दिखाये गये विधायकों में मेडचल के वर्तमान विधायक एम, सुधीर रेड्डी और मलकाजगिरी के वर्तमान विधायक कनका रेड्डी शामिल है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मेडचल के वर्तमान एम. सुधीर रेड्डी को बहार का रास्ता दिखा दिया है। इस निर्वाचन क्षेत्र पर मलाजगिरी के सांसद मल्लारेड्डी को टिकट दिये जाने का फैसला लिया गया। मगर सुधीर रेड्डी,सिंगीरेड्डी हरिवर्धन रेड्डी और नक्का प्रभाकर गौड़ अब भी टिकट हासिल करने का प्रयास कर रहे है।

यह भी पढ़ें:

तेलंगाना चुनाव : KCR को हराने के लिए गदर और KTR से टक्कर के लिए विमलक्का मैदान में

आलाकमान आदेश देता है तो पूरे तेलंगाना में चुनाव प्रचार करूंगी: कोंडा

मलकाजगिरी

दूसरी ओर टीआरएस आलाकमान ने मलकाजगिरी निर्वाचन क्षेत्र में एमएलसी मैनमपल्ली हनुमंत राव को चुनाव प्रचार शुरू करने का निर्देश दिया है। जबकि वर्तमान विधायक सी कनका रेड्डी को बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

गोशामहल

सूत्रों से यह भी पता चला है कि हाल ही टीआरएस में शामिल हुए दानम नागेंदर को आलाकमान ने गोशामहल निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव प्रचार शुरू करने का निर्देश दिया है। मगर दानम खैरताबाद की सीट मांग कर रहे हैं।

खैरताबाद

टीआरएस आलाकमान ने खैरताबाद निर्वाचन क्षेत्र के टिकट को पी जनार्दन रेडडी की बेटी विजया रेड्डी को देने का फैसला ले चुकी है। यह भी चर्चा है कि पिछली बार टीआरएस के छह महिला विधायक थे। मगर टीआरएस ने इस बार केवल चार महिलाओं को टिकट देने का फैसला लिया है।

मुशीराबाद

मुशीराबाद निर्वाचन क्षेत्र पर टीआरएस ने मुठा गोपाल के नाम पर मुहर लगा दी है। मगर वर्तमान पार्षद श्रीनिवास रेड्डी को इस निर्वाचन क्षेत्र का टिकट हासिल करने के लिए गृहमंत्री नायनी नरसिम्हा रेड्डी अब भी प्रयास कर रहे हैं। आपको बता दें कि श्रीनिवास रेड्डी नायनी के रिश्तेदार है। नायनी नरसिम्हा रेड्डी ने नामों की घोषणा के बाद केसीआर से मिल चुके है। केसीआर से आश्वासन मिलने के बाद वे खामोश हो गये थे। मगर अब फिर से नायनी नरसिम्हा रेड्डी टिकट के लिए प्रयास कर रहे है।

अंबरपेट

टीआरएस आलाकमान ने अंबरपेट निर्वाचन क्षेत्र पर कालेरु वेंकटेश को टिक देने का फैसला लिया है। मगर टीआरएस निर्वाचन क्षेत्र के प्रभारी एड्ला सुधाकर रेड्डी और गड्डम साई किरण अब भी टिकट के लिए प्रयास कर रहे हैं।

वरंगल

इसी तरह वरंगल पूर्वी निर्वाचन क्षेत्र को टीआरएस ने गंभीरता से लिया है। ग्रेटर वरंगल मेयर नन्नपुनेनी नरेंदर, वरंगल अर्बन बैंक चेयरमैन एर्राबेल्ली प्रदीप राव, टीआरएस के संस्थापक गुडिमल्ला रवि कुमार, पूर्व मंत्री बसव राजू सारय्या और पूर्व सांसद गुंडु सुधाराणी के नामों पर गंभीरता से विचार कर रही है। यह भी चर्चा है कि पिछड़ी जाति के उम्मीदवार को ही इस निर्वाचन क्षेत्र पर टिकट दिये जाने की संभावना अधिक है।

चुनाव प्रचार

आपको बता दें कि केसीआर ने विधानसभा के 105 निर्वाचन क्षेत्रों की घोषणा करने के बाद 14 सीटों को लंबित रखा था। अब पूरे तेलंगाना की नजर इन 14 निर्वाचन क्षेत्रों पर लगी हुई है।

इसी क्रम में आगामी 3 अक्तूबर से केसीआर चुनावी प्रचार सभाओं में भाग लेने वाले हैं। मगर चुनाव आयोग ने अब तक चुनाव की अधिसूचना जारी नहीं की है। मगर टीआरएस की राजनीतिक हल्कों में इन 14 सीटों को लेकर गहमा गहम बहस जारी हैं।

Advertisement
Back to Top