हैदराबाद : तेलंगाना विधानसभा चुनाव में घामासान के संकेत मिल रहे है। शायद ही किसी ने कल्पना तक नहीं की होगी ऐसे उम्मीदवार तेलंगाना चुनावी जंग में उतरने के संकेत मिले हैं। शीघ्र ही होने वाले विधानसभा चुनाव में जन नाट्य नाट्य मंडली के संस्थापक और लोक गायक गुम्मडी वेंकटेश्वर राव उर्फ गद्दर और अरुणोदया समाख्या की प्रमुख विमलक्का चुनाव लड़ेंगे।

टी-मास फोरम के अध्यक्ष और प्रोफेसर कंच अइलय्या ने बुधवार को सुंदरय्या विज्ञान केंद्र में मीडिया से यह बात कही। उन्होंने आगे बताया कि तेलंगाना राष्ट्र समिति के अध्यक्ष के. चंद्रशेखर राव के खिलाफ गद्दर चुनाव और के केसीआर के बेटे के टी रामाराव के खिलाफ विमलक्का चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि ये दोनों निर्दलीय उम्मीदवार की हैसियत से चुनाव लड़ेंगे।

कंच अइलय्या व अन्य
कंच अइलय्या व अन्य

अइलय्या ने कहा कि गद्दर और विमलक्का ही तेलंगाना के सच्चे वारिस हैं। तेलंगाना गठन के लिए गद्दर और विमलक्का ने अनेक त्याग किये हैं। जब गद्दर पृथक तेलंगाना के लड़ रहे थे, तब तत्कालीन सरकार ने गद्दर पर गोली चलाई। गद्दर के शरीर में छह गोली लगी थी। एक गोली अब भी उनके शरीर में है। इसी तरह विमलक्का ने पैरों में घुंघूरू बांधकर तेलंगाना के लिए आवाज उठायी थी।

विमलक्का (फाइल फोटो)
विमलक्का (फाइल फोटो)

अइलय्या ने कहा कि बिना कोई त्याग किये केटीआर को केसीआर मुख्यमंत्री बनना चाह रहे है। उन्होंने सभी पार्टियों और जन संगठनों से आह्वान किया कि वे गद्दर और विमलक्का की जीत के लिए एकजुट हो जाए। साथ ही उन्होंने गद्दर और विमलक्का की जीत के लिए बीजेपी, कांग्रेस और अन्य पार्टी से सहयोग की अपील की है।

कंचा अइलय्या ने यह भी बताया कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस के प्रभारी खूंटिया और प्रदेश अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी को इस बारे में एक ज्ञापन भी सौपेंगे। इस अवसर पर टी मास फोरम के नेता जानवेस्ली, हिमबिंदु, रेखा मुक्ताला, मन्नाराम नागराजू, श्रीराम नायक, प्रो. विजयलक्ष्मी व अन्य उपस्थित थे।