हैदराबाद : तेलंगाना में विधानसभा भंग होने के बाद राज्य में जल्द से जल्द विधानसभा चुनाव का एलान जल्द होने वाला है। इसके मद्देनजर जहां एक ओर, तमाम दलों ने अपनी चुनावी गतिविधियां ते कर दी हैं। वहीं दूसरी ओर, टिकट मिलने और टिकट कटने पर विधायकों की खुशी और नाराजगी भी देखी जा रही है।

ताजा मामला मंचेरियाल जिले के चेन्नूर निर्वाचन क्षेत्र के पूर्व विधायक नल्लाला ओदेलु से जुड़ा हुआ है। इस नेता ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) द्वारा जारी 105 प्रत्याशियों की सूची में अपना नाम न देख कर अपने आप को घर के अंदर नजरबंद कर लिया है। इतना ही नहीं, उन्होंने अपने साथ-साथ अपनी पत्नी, अपने बेटे और बेटी व अपनी बूढ़ी मां को भी घर के अंदर बंद करके रखा हुआ है।

इसे भी पढ़ें :

केसीआर के विजयरथ को रोकने के लिए कांग्रेस-टीडीपी-भाकपा ने किया गठबंधन

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार, पूर्व विधायक ने अपने घर के अंदर ताला लगा लिया है और उसी में वह अपनी पत्नी भाग्यलक्ष्मी, पुत्र संदीप, पुत्री ज्योत्सना और मां पोसव्वा के साथ रह रहे हैं।

ओदेलु का कहना है कि टिकट आवंटन के बारे में जब तक टीआरएस के द्वारा कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया जाता है, तब तक वह घर के बाहर नहीं आएंगे। हालांकि, स्थानीय नेता और कार्यकर्ता उन्हें कई बार मनाने की कोशिश कर चुके हैं, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं हैं।

ओदेलु ने कहा कि 2009 से उन्होंने कभी भी किसी पार्टी विरोधी गतिविधि में कभी हिस्सा नहीं लिया और न ही कोई ऐसी हरकत की जिससे मेरा टिकट काटने की पार्टी को जरूरत पड़े।

ओदेलु ने पूछा कि जब सभी वर्तमान विधायकों को टिकट दिया गया तो उनको टिकट से वंचित क्यों रखा गया है।