हैदराबाद : मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने विधानसभा भंग की राज्यपाल से सिफारिश करने के बाद चुनावी जंग का ऐलान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री ने गुरुवार को तेलंगाना भवन में खचाखच भरे मीडिया से कहा कि टीआरएस अक्तूबर में चुनाव की उम्मीद जताई है।

कांग्रेस दुश्मन नंबर वन

कांग्रेस पार्टी तेलंगाना की दुश्मन नंबर वन है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की औकात दिखाने के लिए समय से पहले चुनाव पर जाने का फैसला लिया है। साथ ही आरोप लगाया कि जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राहुल तेलंगाना के दुश्मन रहे है।

राहुल गांधी जोकर

उन्होंने कांग्रेस कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को देश का सबसे बड़ा जोकर कहा है। केसीआर ने कहा कि राहुला गांधी एक बड़ा जोकर है। राहुल के गांधी के बारे में पूरी दुनिया जानती है। वह एक बड़ा जोकर है। लोकसभा में नरेंद्र मोदी को कैसे गले लगाया और कैसे आंख मारा दुनिया को मालूम है। उन्होंने यह भी कहा कि राहुल गांधी हमारी सम्पत्ति है। राहुल गांधी जब भी हैदराबाद आएंगे, तब हमे लाभ होगा। राहुल गांधी जितनी बार दौरा करेंगे टीआरएस को उतनी सीटें बढ़ेगी। तेलंगाना के लोगों को दिल्ली की गुलामीगिरी हरगिज पसंद नहीं है। तेलंगाना के फैसले तेलंगाना में ही हो

यह भी पढ़ें :

KCR ने जारी की 105 पार्टी प्रत्याशियों की सूची, देखिए नामों की पूरी लिस्ट

तेलंगाना विधानसभा भंग, अब कार्यवाहक मुख्यमंत्री के तौर पर काम करेंगे KCR

फ्रेंडली पार्टी एआईएमआईएम

केसीआर ने एआईएमआईएम जमकर तारीफ की और कहा कि एआईएमआईएम टीआरएस की फ्रेंडली पार्टी है। उन्होंने बताया कि जब तेलंगाना गठन हुआ था, एआईएमआईएम प्रमुख नेता असदुद्दीन ओवैसी ने फोन करके बधाई दी और तेलंगाना के साथ रहने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि टीआरएस धर्मनिरपेक्ष्य पार्टी है।

बीजेपी और टीआरएस का नाता

मुख्यमंत्री केसीआर ने कहा कि बीजेपी के साथ टीआरएस का कोई संबंध नहीं है और भविष्य रहेगा। केंद्र में कोई भी सरकार रहे है, राज्य के अनेक काम होते है। इसीलिए केंद्र के साथ राज्य के मुख्यमंत्री को जाना-आना पड़ता है। इसका यह मतलब नहीं निकला जा सकता कि केंद्र के साथ कोई समझौता हुआ है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के साथ किसी भी हाल में समझौता नहीं होगा।

टीआरएस आने वाले चुनाव की पहली सभा 7 सितंबर को हुस्नाबाद में होगी। इसके बाद वह स्वयं सभी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के चुनावी सभा में भाग लेगे।

एआईएमआईएम कैसी फ्रेंडली पार्टी?

केसीआर ने एआईएमआईएम फ्रेंडली पार्टी कहने के बाद भी हैदराबाद नगर के लिए नौ निर्वाचन क्षेत्र के उम्मीदवारों की घोषणा की है। यह उम्मीदवार है-सिकंदराबाद निर्वाचन क्षेत्र के लिए टी पद्माराव गौड़, सनतनगर निर्वाचन क्षेत्र के लिए तलसानी श्रीनिवास यादव, कंटोनमेंट के लिए जी. सायन्ना, जुबली हिल्स निर्वाचन क्षेत्र के लिए मागंटी गोपीनाथ, याकूतपुरा निर्वाचन क्षेत्र के लिए सामा सुंदर रेड्डी, चांद्रायनगुट्टा से एम सीताराम रेड्डी, कारवान से टी जीवन सिंह, बहादुरपुरा से इनायत अली आकरी और नामपल्ली से मुनुकुंटला आनंद गौड़ शामि है।

अघोषित निर्वाचन क्षेत्र

विश्लेषकों का मानना है कि याकूतपुरा, चांद्रायनगुट्टा, कारवान, बहादुरपुरा और नामपल्ली एआईएमआईएम का गढ़ है। ऐसे में टीआरएस एमआईएम की कैसी फ्रेंडली पार्टी हो सकती है। यह भी चर्चा है है कि केसीआर ने गोशामहल, चारमीनार, मलकपेट और खैरताबाद निर्वाचन के नामों की घोषणा क्यों नहीं की है। क्या आगे एमआईएम और टीआरएस इन सीटों पर कोई गुप्त समझौता करेगा?