PM नरेंद्र मोदी के खिलाफ CM की टिप्पणी गलत, KCR को मांगनी चाहिए माफी : लक्ष्मण

मीडिया से रूबरू होते हुए डॉ के. लक्ष्मण - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष डॉ. के. लक्ष्मण ने प्रगति निवेदना सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ की गई टिप्पणी के लिए मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव से केंद्र से माफी मांगने की मांग की है।

लक्ष्मण ने सोमवार को नामपल्ली स्थित बीजेपी कार्यालय में मीडिया से प्रगति निवेदना सभा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए यह बात कही। आपको बता दें कि प्रगति निवेदना सभा में केसीआर ने कहा था कि जोनल सिस्टम मंजूरी करवाने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दबाव डालकर मंजूर करवाया है।

तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष ने आगे कहा कि टीआरएस की प्रगति निवेदना सभा पूरी तरह से फेल हुई है। उन्होंने कहा कि केसीआर ने सत्ता का दुरुपयोग किया है। उन्होंने कहा कि करोड़ रुपये खर्च किया है। इस सभा में केसीआर ने तेलंगाना की प्रगति को बताने में पूरी तरह नाकाम रहे और सेल्फ गोल कर लिया है।

यह भी पढ़ें :

केसीआर को दिल्ली की चमचागिरी मंजूर नहीं, कह दी बड़ी बात

उन्होंने तेलंगाना के लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया कि केसीआर की भ्रष्टाचार की प्रगति निवेदना सभा में भाग लेने से दूर रहे है। लक्ष्मण ने कहा कि भ्रष्टाचार के पैसों की बल पर आयोजित प्रगति निवेदना सभा एक अहंकार से प्रेरित थी। केसीआर के बातें सुनकर मंच पर बैठे अनेक नेता ऊब चुके थे।

लक्ष्मण ने कहा कि प्रगति निवेदना सभा से बेरोजगार, किसान, ठेका कर्मी को बहुत से उम्मीदें थी। मगर केसीआर उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। मिशन भगीरथ के जरिए घर-घर पेयजल देने के आश्वासन पूरा नहीं कर पाई है। मगर केसीआर ने तेलंगाना को कर्ज में नंबर वन बना दिया है।

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि केसीआर ने केंद्र सरकारी योजना की अमलावरी को अपने खाते में डाल दिया है। 24 घंटे बिजली केंद्र की बदौलत से मिल रही है। मगर केसीआर इसे भी अपने खाते में डाल ले रहे है।

उन्होंने आगे कहा कि प्रगति निवेदना सभा के चलते केसीआर ने तेलंगाना के नाम मिट्ठी में मिला दिया है। केंद्र सरकार द्वारा अल्पसंख्यकों और पिछड़ी जातियों के कल्याण के लिए अनेक कार्यक्रम चलाए जा रहे है, मगर केसीआर केंद्र की कार्यक्रमों का इस सभा में उल्लेख नहीं किया है।

लक्ष्मण ने कहा कि तेलंगाना आंदोलन 1969 से जारी रहा है। इस आंदोलन में अब तक 1200 लोग शहीद हो चुके है। मगर केसीआर ने केवल 400 लोगों के परिजनों को मुआवजा दिया है। बाकि अन्य को केसीआर भूल गये हैं।

लक्ष्मण ने तेलंगाना में जोनल सिस्टम को मंजूर करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने आगे कहा कि केसीआर ने यदि प्रधानमंत्री पर दबाव डालकर जोनल सिस्टम को मंजूर करवाया लिया है तो कईं सालों से लंबित एससी/एसटी वर्गीकरण को क्यों नहीं मंजूर करवाया है।

उन्होंने कहा केंद्र सरकार किसी पार्टी या व्यक्ति के लिए काम नहीं करती है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार प्रदेश और देश के हित और कल्याण के लिए काम करती है। उन्होंने कहा कि केसीआर केवल लुभावने आश्वासन देकर लोगों के गुमराह कर रहे हैं। केसीआर की कुटिलनीति को अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

बीजेपी अध्यक्ष जीएचएमसी पर आरोप लगाया कि अन्य पार्टियों की बैठकों को अनुमति नहीं दे रही है। बैठकों के लिए कोर्ट से अनुमति लेनी पड़ रही है। अन्य पार्टी व संगठनों के पोस्टरों को भी उखाड़ फेंक दिया जा रहा है। मगर टीआरएस सभा की पोस्टरों को स्वयं लगा रही है। यह कहां का न्याय है। नगर की सड़कों की दुर्दशा हो चुकी है। इन सड़कों की मरम्मत करने के बजाय जीएचएमसी कोंगरकनाल में सड़कें बिछाई है।

उन्होंने बताया कि आने वाले चुनाव में बीजेपी अकेली लड़ेगी। किसी से भी तालमेल नहीं किया जाएगा। तेलंगाना सभी 119 विधानसभा सीटों पर बीजेपी चुनाव लड़ेगी। उन्होंने बताया कि आगामी 8 और 9 सितंबर को दिल्ली में तेलंगाना चुनाव को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी। इसके बाद तेलंगाना में होने वाले चुनाव का शंखनाद किया जाएगा।

लक्ष्मण ने कहा कि तेलंगाना के चुनाव की रणनीति तैयार करने स्वयं उपस्थित रहेंगे। जिस प्रकार अन्य राज्यों में बीजेपी जीती है, उसी प्रकार तेलंगाना में भी आने वाले चुनाव में बीजेपी सत्ता में आएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केसीआर के अहंकार को मिटकर तेलंगाना की जनता को टीआरएस से मुक्त किया जाएगा।

Advertisement
Back to Top