सैन फ्रांसिस्को : माइक्रोसॉफ्ट ने चेतावनी दी है कि दुनिया भर में करीब 10 लाख कंप्यूटर अभी भी वन्नाक्राई जैसे मॉलवेयर की हमले के जोखिम में है। साल 2017 में बन्नाक्राई मॉलवेयर दुनिया भर में फैल गया था, जिससे अरबों डॉलर का नुकसान हुआ था।

सॉफ्टवेयर दिग्गज ने हाल में ही विंडोज के लिए रिमोट डेस्कटॉप सर्विसेज में 'वोर्मेबल' भेद्यता की खोज की है, जो स्वचालित रूप से फैल सकता है।

एनगैजेट ने शुक्रवार को एक रिपोर्ट में बताया कि कंपनी ने दूसरी एडवाइजरी जारी की है और यूजर्स से गुजारिश की है कि 'ब्लूकीप' मालवेयर हमले को रोकने के लिए वे अपने सिस्टम्स को अपडेट कर लें।

माइक्रोसॉफ्ट सिक्युरिटी रेसपांस सेंटर (एमएसआरसी) के इंसिडेंट रेसपांस के निदेशक सिमोन पोप ने चेतावनी दी है, "माइक्रोसॉफ्ट को विश्वास है कि यह भेद्यता मौजूद है। केवल दो हफ्ते पहले ही इसका फिक्स जारी किया गया है और उसके बाद इस वार्म का कोई संकेत नहीं मिला है। इसका मतलब यह नहीं है कि हम खतरे से बाहर हैं।"

ये भी पढ़ें: ये है दुनिया का सबसे खतरनाक और सबसे महंगा बिकने वाला लैपटॉप

माइक्रोसॉफ्ट ने कहा, "हमारी सिफारिशें वही है। हम दृढ़ता से यह सलाह देते हैं कि सभी प्रभावित सिस्टम्स को जल्द से जल्द अपडेट किया जाना चाहिए।"

इन ऑपरेटिंग सिस्टम्स का व्यापक तौर पर कॉर्पोरेट एनवायरोनमेंट्स में प्रयोग किया जाता है।