सैन फ्रांसिस्को : गूगल आईओएस पर आईफोन के सफारी ब्राउसर में डिफाल्ट सर्च इंजन बने रहने के लिए 2018 में भारी भरकम नौ अरब डॉलर का भुगतान करेगी।

9टू5 मैन की शनिवार देर रात की रपट के मुताबिक, गोल्डमैन सैक्स के विश्लेषक रॉड हॉल (बिजनेस इनसाइडर के जरिए) के मुताबिक, इस रकम में अभी आगे और भी इजाफा होगा। संभावना है कि साल 2019 में गूगल 12 अरब डॉलर का भुगतान करे।

हालांकि एपप्ल आईओएस पर सफारी में गूगल को डिफाल्ट सर्च इंजन के रूप में इस्तेमाल करती है, लेकिन वह कई अन्य स्थानों पर बिंग का इस्तेमाल करती है, जैसे सीरी में किया जानेवाला सर्च बिंग के माध्यम से ही होता है।

यह भी पढ़ें :

‘डूडल 4 गूगल’ से पा सकते हैं 5 लाख की छात्रवृत्ति

फ्लैगशिप ‘पिक्सल वॉच’ इस साल नहीं लांच करेगा गूगल, जानें क्या है परेशानी

एप्पल का मानना है कि कंपनी की सेवाओं की वृद्धि दर आगे काफी अच्छी होगी, क्योंकि उसके हार्डवेयर की बिक्री में तेजी आई है। एप्पल म्यूजिक को कंपनी ने साल 2015 में लांच किया था, और उसके बाद इसमें हर साल स्थिर वृद्धि दर दर्ज की गई है।

-आईएएनएस