वाशिंगटन : सूर्य से निकलने वाली ऊर्जा को लंबे समय तक मापने के लिए नासा ने अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र में अपने नए उपकरण को स्थापित किया है।

नासा ने कहा, "उपकरण टोटल एंड स्पैक्ट्रल सोलर इराडियंस सेंसर(टीएसआईएस-1) विज्ञान डेटा का संग्रहण कर अपने सभी उपकरणों के साथ इस मार्च में पूरी तरह संचालित हो गया है।"

नासा में टीएसआईएस-1 के प्रोजेक्ट वैज्ञानिक डोंग वू ने कहा, "टीएसआईएस-1 ने अपने एक लंबे डेटा रिकार्ड को बढ़ाया है, जिससे हमें धरती के विकिरण बजट, ओजोन लेयर, वायुमंडलीय परिसंचरण पर सूर्य के प्रभाव, जलवायु परिवर्तन को समझने में मदद मिलेगी।"

ये भी पढ़ें--

नासा अंतरिक्ष यात्रियों ने 2018 में पहली चहलकदमी की

अंतरिक्ष में जाने का विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले नासा वैज्ञानिक का निधन

टीएसआईएस-1 दो सेंसर बोर्ड में से एक से कुल विकिरण मॉनिटर का प्रयोग करके सूर्य द्वारा उत्सर्जित प्रकाश ऊर्जा की कुल मात्रा के बारे में अध्ययन करता है।

सेंसर डेटा से वैज्ञानिकों को पृथ्वी के प्राथमिक ऊर्जा आपूर्ति को समझने में मदद मिलेगी और यह ग्रह के वातावरण को बेहतर बनाने के लिए सूचना मुहैया कराएगा।

वहीं दूसरा सेंसर, इसकी माप करेगा कि कैसे सूर्य की ऊर्जा प्रकाश के पाराबैगनी, पारदर्शी और अवरक्त क्षेत्रों में विभक्त होती है।