सैन फ्रांसिस्को : मैसेंजिंग कंपनी व्हाट्सएप ने बुधवार को अपने प्लेटफॉर्म पर नई प्राइवेसी सेटिंग और 'ग्रुप इनवाइट सिस्टम' की घोषणा की है जिसके बाद यूजर्स का इस पर नियंत्रण बढ़ जाएगा कि उन्हें ग्रुप पर कौन जोड़ सकता है।

यूजर्स को प्राइवेसी सेटिंग के मीनू में ग्रुप्स से जोड़ने के लिए तीन विकल्प दिए जाएंगे- 'नोबडी', 'माई कॉन्टेक्ट्स' और 'एव्रीवन'। यूजर्स अपनी सुविधानुसार कोई भी विकल्प चुन सकते हैं।

कंपनी ने एक बयान में कहा, "'नोबडी' विकल्प का मतलब है कि किसी भी ग्रुप में आपको जोड़ने के लिए आपकी अनुमति की आवश्यकता होगी और 'माई कॉन्टेक्ट्स' का मतलब होगा कि आपकी फोनबुक में सेव्ड कॉन्टेक्ट्स ही आपको ग्रुप में जोड़ सकते हैं।"

'नोबडी' चुनने वाले यूजर्स को ग्रुप में जोड़ने के लिए निजी चैट में आमंत्रण दिया जाएगा जिसमें वह अपनी अनुमति देंगे। यह आमंत्रण उनके पास तीन दिन तक रहेगा जिसके बाद यह निरस्त हो जाएगा।

यह भी पढ़ें :

Facebook जल्द लॉन्च करेगा ‘न्यूज टैब’, जानें पत्रकारों को कैसे होगा फायदा

WhatsApp ने फेक न्यूज से निपटने के लिए जारी की फैक्ट चेक नंबर, ऐसे करें सेटिंग

'एव्रीवन' विकल्प के तहत यूजर्स को कोई भी व्यक्ति किसी भी ग्रुप में यूजर की बिना अनुमति के जोड़ सकेगा जैसा कि अभी चल रहा है। ये नई प्राइवेसी सेटिंग्स लागू की जा रही हैं और आगामी सप्ताहों में व्हाट्सएप के नवीनतम वर्जन में लागू हो जाएंगी।