नई दिल्ली : देश में लिंचिंग (भीड़ द्वारा व्यक्ति की हत्या) की घटनाओं के बीच फर्जी और भड़काऊं सामग्री को अपने प्लेटफार्म पर फैलने से रोकने में नाकाम रहने को लेकर सरकार द्वारा दूसरी बार चेतावनी मिलने के बाद फेसबुक के स्वामित्व वाले वाट्सएप ने शुक्रवार को कहा कि वह भारत में एक ऐसा फीचर ला रही है, जिसके कारण उपयोगकर्ता सिर्फ पांच लोगों तक ही मैसेज फॉरवर्ड कर पाएंगे।

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने तीन जुलाई, 2018 को वॉट्सएप को अपने लिखित संदेश में वॉट्सएप मंच के माध्यम से फैलाए जा रहे भड़काऊ संदेशों के दुरुपयोग को रोकने के लिए शीघ्रता से कदम उठाने को कहा गया था। उसी दिन वॉट्सएप ने मंत्रालय को अपना जबाव देते हुए कहा कि इस तरह के संदेशों और झूठी खबरों को हटाने के लिए आवश्यक प्रयास बढ़ाने की पहल की गई है।

इसे भी पढ़ें

WhatsApp ने पेश किया नया फीचर, मैसेज फॉरवर्ड करने पर जाएंगे पकड़े

वाट्स एप ने इसके जवाब में कहा, "भारत में लोग दुनिया के किसी अन्य देश के मुकाबले ज्यादा मैसेजेज, फोटोज और वीडियोज साझा करते हैं। इसलिए हम लोगों के साझा करने की सीमा घटाकर पांच करने जा रहे हैं।"

इसे भी पढ़ें

अब जल्द ही व्हाट्सएप से अपने दोस्तों पर रख सकेंगे नजर

वाट्स एप ने एक बयान में कहा, "हम मीडिया मैसेजेज के साथ लगे क्विक फारवर्ड बटन को हटाने जा रहे हैं।"

बयान में कहा गया, "हम आपकी सुरक्षा और गोपनीयता के प्रति गंभीरता से प्रतिबद्ध हैं, यही कारण है कि व्हाट्सएप अंत तक एन्क्रिप्टेड है, और हम इस तरह की सुविधाओं के साथ हमारे एप को बेहतर बनाना जारी रखेंगे।"