IND vs NZ: 7 साल के बाद मिली सबसे बड़ी हार, 10 विकेट से हारी टीम इंडिया  

टीम इंडिया को 7 साल बाद सबसे बड़ी हार मिली।  - Sakshi Samachar

वेलिंग्टन : भारतीय बल्लेबाजों की विफलता दूसरी पारी में भी जारी रही और इसी कारण न्यूजीलैंड ने उसे यहां बेसिन रिजर्व मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को 10 विकेटों से करारी शिकस्त दे दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली।

दुनिया में हर जगह बेहतरीन बल्लेबाजी करने का दम भरने वाली कोच रवि शास्त्री की यह भारचीय टीम दोनों पारियों में कुल 356 रन बना पाई। पहली पारी में भारत ने सिर्फ 165 रन बनाए। न्यूजीलैंड ने पहली पारी मं ही 348 रन बना भारत पर 183 रनों की बढ़त ले ली। भारतीय बल्लेबाज दूसरी पारी में भी विफल रहे और सिर्फ 191 रन ही बना पाए जिससे कीवी टीम को जीत के लिए सिर्फ नौ रन बनाने थे, लिहाजा उसने बिना कोई विकेट खोए यह रन बना जीत हासिल की।

टॉम लाथम सात और टॉम ब्लंडल दो रन बनाकर नाबाद रहे। यह न्यूजीलैंड की 100वीं टेस्ट जीत भी है।

भारत ने दिन की शुरुआत चार विकेट के नुकसान पर 144 रनों के साथ की। टीम को अच्छे स्कोर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी पर थी। यह दोनों तीसरे दिन क्रमश: 25 और 15 रन बनाकर नाबाद लौटे थे।

टीम के खाते में तीन रन ही जुड़े थे कि विहारी पवेलियन लौट लिए। वह अपने खाते में इजाफा नहीं कर पाए। विहारी को टिम साउदी ने बोल्ड किया। रविचंद्रन अश्विन भी साउदी का शिकार बने। साउदी ने चार रन बनाने वाले अश्विन को 162 रनों पर आउट किया। ईशांत शर्मा ने विकेट पर खड़े होकर रहाणे का साथ देने की कोशिश की लेकिन अपनी पारी की 21वीं गेंद पर ही वे कोलिन डी ग्रांडहोम का शिकार हो गए। उन्होंने दो चौकों की मदद से 12 रन बनाए।

इसे भी पढ़ें

वेलिंग्टन टेस्ट : तीसरे दिन भी न्यूजीलैंड की मैच पर मजबूत पकड़, अभी भी 39 रन पीछे है भारत

अगला नंबर रहाणे का था। बाउल्ट की ऑफ स्टम्प के बाहर की गेंद रहाणे के बल्ले के किनारे को छूते हुए विकेटकीपर बीजे वाटलिंग के हाथों में जा समाई। रहाणे ने 75 गेंदों का सामना कर 29 रन बनाए। ऋषभ पंत की 25 रनों की पारी का अंत साउदी ने 191 के कुल स्कोर पर किया और साउदी ने ही तीन गेंद बाद जसप्रीत बुमराह को पवेलियन भेज भारत को ऑल आउट कर दिया।

इस पारी में भारत के लिए कोई रन बना सका था तो वो रहे मयंक अग्रवाल। मयंक ने 99 गेंदों पर सात चौके और एक छक्के की मदद से 58 रनों की पारी खेली। वह तीसरे दिन ही पवेलियन लौट चुके थे। मयंक ने पहली पारी में संयम से खेलते हुए 34 रन बनाए थे।

न्यूजीलैंड के लिए साउदी ने पांच विकेट लिए। ट्रेंट बाउल्ट ने चार सफलताएं अर्जित कीं। डी ग्रैंडहोम के हिस्से एक विकेट आया।

Advertisement
Back to Top