नई दिल्ली : भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया को इस साल राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। यह अवार्ड खेल के क्षेत्र में दिया जाने वाला भारत का सर्वोच्च सम्मान है।

इस मामले से जुड़े एक सूत्र ने आईएएनएस को इस बात की जानकरी दी। सूत्र ने कहा कि पुनिया को कुश्ती के क्षेत्र में लगातार अच्छा करने के लिए अवार्ड दिया जाएगा।

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) ने इस प्रतिष्ठित अवार्ड के लिए पुनिया के साथ ही महिला पहलवान विनेश फोगाट को यह अवार्ड देने की सिफारिश की थी।

पुनिया ने हाल ही में तबिलिसी ग्रां प्री में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। वह ईरान के पेइमान बिबयानी को मात देकर 65 किलोग्राम भारवर्ग में सोने का तमगा जीतने में सफल रहे थे।

अपने भारवर्ग में मौजूदा नंबर-1 खिलाड़ी पुनिया ने चीन में आयोजित एशियाई चैम्पियनशिप में जीत हासिल कर एशियाई महाद्वीप में अपनी बादशाहत साबित की थी।

पुनिया ने पिछले साल एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था।

पिछले साल भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और भारत्तोलक महिला खिलाड़ी मीराबाई चानू को यह अवार्ड मिला था। पिछले साल अपना नाम खेल रत्न के लिए न आने के बाद पुनिया ने नाराजगी जताई थी और उस समय के खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर से मुलाकात कर निराशा जाहिर की थी।

पहला खेल रत्न पुरस्कार शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथ आनंद को 1991-92 में मिला था।