त्रिनिदाद : भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले जा रहे ने तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज के दूसरे मुकाबले में वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर 59 रनों से हरा दिया। पोर्ट ऑफ स्पेन के क्वींसपार्क ओवल मैदान पर खेले गए इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और निर्धारित 50 ओवरों में 7 विकेट पर 279 रनों का स्कोर खड़ा किया, जिसके जवाब में वेस्टइंडीज की टीम 42 ओवर में 210 रन बनाकर ऑल आउट हो गई।

हालांकि इस मैच में बारिश ने दो बार खलल डाला, जिसके कारण विंडीज की पारी के दौरान बारिश ने जब दूसरी बार बाधा पहुंचाई, तो अंपायरों ने डकवर्थ लुईस नियम लगाकर संशोधित लक्ष्य 46 ओवर में 270 रन कर दिया, जिसेे जवाब में विंडीज टीम 59 रन बाकी रहते सिमट गई।

वेस्टइंडीज की पारी में बल्लेबाजी की बात करें, तो इविन लुईस ने 80 गेंदों में 8 चौके और एक छक्के की मदद से 65 रन बनाए, जबकि निकोलस पूरन ने 52 गेंद में 42 रनों की पारी खेली। क्रिस गेल कुछ खास नहीं कर सके और सिर्फ 11 रन बनाकर चलते बने।

तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने भी भारत की जीत में अहम योगदान दिया। उन्होंने 8 ओवर में 31 रन देकर वेस्टइंडीज के 4 खिलाड़ियों को पवेलियन की राह दिखाई। मोहम्मद शमी (8 ओवर में 39 रन) और कुलदीप यादव (10 ओवर में 59 रन) ने दो-दो, जबकि खलील अहमद (7 ओवर में 32 रन) और रवींद्र जडेजा (4 ओवर में 15 रन) ने एक-एक विकेट झटके।

भारतीय टीम ने त्रिनिदाद में वेस्टइंडीज के खिलाफ टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया।भारत ने विराट के 120 और श्रेयस अय्यर के 71 रनों की मदद से वेस्टइंडीज को जीत के लिए 280 रनों का लक्ष्य दिया है। पोर्टऑफ स्पेन में खेले जा रहे दूसरे वन-डे में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 279 रन बनाए।

भारत की तरफ से कप्तान विराट ने सबसे अधिक 120 रन बनाए तो वहीं वेस्टइंडीज की तरफ से कार्लोस ब्रेथवेट ने सबसे अधिक तीन विकेट चटकाए।

एक समय 300 रन की तरफ बढ़ रही भारतीय टीम विराट और श्रेयस के आउट होते ही लड़खड़ा गई। भारत ने अपने आखिरी के चार विकेट मात्र 50 रन के अंदर गंवा दिए।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने पहले ही ओवर में अपना पहला विकेट गंवा दिया। पहले ओवर की तीसरी ही गेंद पर शेल्डन कॉट्रेल की अंदर आती गेंद धवन के पैड से टकराई। हालांकि अंपायर ने नॉटआउट दिया लेकिन वेस्टइंडीज ने रिव्यू लिया और उसमें धवन को आउट दिया गया। धवन ने आउट होने से पहले तीन गेंदों में दो रन बनाए।

धवन के आउट होने के बाद रोहित और विराट ने पारी को संभाला और दोनों ने मिलकर दूसरे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी की। लेकिन 16वें ओवर की तीसरी ही गेंद पर भारत को दूसरा झटका लगा जब चेज की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में रोहित शर्मा ने पूरन को कैच दे दिया। आउट होने से पहले रोहित ने 34 गेंदों में 18 रन बनाए।

वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बैट्समैन बने कोहली

कप्तान विराट कोहली पाकिस्तान के दिग्गज जावेद मियांदाद के 26 साल पुराने रिकार्ड को तोड़कर वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गये। कोहली श्रृंखला के दूसरे एकदिवसीय से पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ मियांदाद के बनाये 1930 रन से 19 रन दूर थे। उन्होंने जैसन होल्डर के द्वारा किये गये पारी के पांचवें ओवर में एक रन लेकर इस रिकार्ड को अपने नाम किया।

विराट कोहली और रोहित शर्मा।
विराट कोहली और रोहित शर्मा।

मियांदाद ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 64 पारियों में 1930 रन बनाये है जबकि कोहली ने सिर्फ 34 पारियों में उन्हें पछाड़ दिया। मियांदाद ने कैरेबियाई टीम के खिलाफ 64 पारियों में एक शतक और 12 अर्धशतक की मदद से 1930 रन बनाये। इस दौरान उनका औसत 33.85 का रहा जबकि कोहली ने इस टीम के खिलाफ रिकार्ड सात शतक और 11 अर्धशतक की मदद से 72 से अधिक के औसत से रन बनाये हैं।

इस सूची में आस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज मार्क वा 47 मैचों में 1708 रन के साथ तीसरे स्थान पर है। कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी पहली पारी जोहानिसबर्ग में 2009 चैम्पियंस ट्राफी में खेला था जिसमें उन्होंने 79 रन बनाये थे। इस टीम के खिलाफ उन्होंने पहली शतकीय पारी 2011 मे विशाखापत्तनम में खेली थी। वेस्टइंडीज के खिलाफ कोहली के प्रभुत्व का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने जुलाई 2017 से अक्टूबर 2018 के बीच लगातार चार शतक लगाये है।

टीमें :-

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, खलील अहमद, कुलदीप यादव।

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), क्रिस गेल, इविन लुइस, शाई होप (विकेटकीपर), शिमरन हेटमायेर, निकोलस पूरन, रोस्टन चेज, ओशाने थॉमस, कार्लोस ब्रैथवेट, केमार रोच, शेल्डन कॉटरेल।