वाशिंगटन : नासा का अंतरिक्ष यान सूर्य को स्पर्श करने के इरादे से शनिवार को दोपहर एक बजे फ्लोरिडा स्थित केप केनावेरल वायु सेना के अड्डे से कूच करेगा। छोटी कार के आकार के इस खोजी अंतरिक्षयान को सूर्य को छूने के लिए रवाना किया जाएगा।

इस खोजी अभियान का नाम भौतिक विज्ञानी 'एगुजीन पार्कर' के नाम पर रखा गया है। पार्कर ने पहली बार 1958 में सौर वात यानी सूर्य पर हवा के अस्तित्व की संभावना जताई थी। सौर वात आवेशित कणों और चुंबकीय क्षेत्रों की धारा है जो सूर्य से लगातार प्रवाहित होती रहती है।

यह भी पढ़ें : चीन ने परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम अत्याधुनिक सुपरसोनिक विमान का किया  परीक्षण

नासा ने गुरुवार को ही एक ट्वीट में कहा, "लांच टीम तकनीक मसलों पर काम कर रही है और 70 फीसदी संभावना है कि मौसम अनुकूल रहेगा।"