नोएडा : रियल एस्टेट डेवलपर 'सुपरटेक' ने कहा है कि दिल्ली-एनसीआर की आवासीय परियोजना 'सुपरनोवा' में फ्लैट की डिलिवरी शुरू हो चुकी है। यह बहुमंजिला आवासीय परिसर नोएडा के सेक्टर 94 में बनाया गया है।

सुपरटेक के चेयरमैन आर. के. अरोड़ा ने शुक्रवार को यहां एक प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि सुपरनोवा परियोजना में नोवा के आवासीय फ्लैट की डिलिवरी शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि परियोजना के तहत 'नोवा ईस्ट' और 'नोवा वेस्ट' टॉवर का कार्य पूरा हो गया है। दोनों में 575 फ्लैट हैं।

अरोड़ा ने कहा, "दिल्ली-एनसीआर में सबसे ऊंची इमारत वाली परियोजना सुपरनोवा है। सुपरनोवा स्पाइरा की ऊंचाई 300 मीटर है।"

यह भी पढ़ें : दिल्ली में अप्रैल-जून तिमाही में मकानों की बिक्री में हुआ 23 फीसदी इजाफा

सुपरनोवा एक मिक्सड यूज रियल एस्टेट प्रोजेक्ट है जिसमें व्यावसायिक प्रतिष्ठान और आवासीय परिसर दोनों हैं। अरोड़ा ने कहा, "सुपरटेक समय पर फ्लैट की डिलिवरी को लेकर प्रतिबद्ध है और अपना वादा निभाते हुए इस महीने नोवा आवासीय परिसर में फ्लैट व पेंट हाउस की डिलिवरी शुरू कर दी है।"

अरोड़ा ने बताया कि उनके इस परिसर में कई नामी गिरामी हस्तियों ने फ्लैट और पेंट हाउस खरीदा है। उन्होंने कहा, "दिल्ली के पूर्व उप राज्यपाल नजीब जंग ने भी यहां एक पेंट हाउस खरीदा है।" उन्होंने कहा कि इस गगनचुंबी इमारत का निर्माण जंप फॉर्म तकनीक से किया गया है।

सुपरटेक ने एक विज्ञप्ति में बताया कि मौजूदा जिस परिसर में डिलिवरी दी जा रही है, वह 44 मंजिला रिहायशी टॉवर है। इमारत का डिजाइन ब्यूरो हैपोल्ड (लंदन) द्वारा तैयार किया गया है, जो सेस्मिक जोन-4 के अनुरूप है।

सुपरटेक ने बताया कि सभी अपार्टमेंट एयर-कंडीशंड और हाई टेक किचन से युक्त हैं। यमुना नदी के किनारे स्थित इस परिसर में हर अपार्टमेन्ट और पेंट हाउस से प्रकृति का खूबसूरत नजारा देखा जा सकता है। यह परिसर मेट्रो स्टेशन के बिल्कुल करीब है।