हैदराबाद : आंध्र प्रदेश में विपक्षी के दल के नेता और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी की प्रजा संकल्प यात्रा का समापन आगामी 9 जनवरी को होगा। पार्टी के महासचिव सज्जल कृष्णा रेड्डी ने मंगलवार को मीडिया को यह जानकारी दी। साथ ही देशवासियों को नये साल की बधाई दी।

महासचिव ने कहा कि वाईएस जगन की पदयात्रा को दुनिया के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा। क्योंकि अब तक दुनिया के इतिहास में किसी भी नेता ने इतनी लंबी पदयात्रा नहीं की है।

इसे भी पढ़ें :

334वें दिन की डायरी : चंद्रबाबू ने पूरा नहीं किया उद्दानम के गुर्दा रोगियों को दिया आश्वासन

प्रजा संकल्प यात्रा समापन के बाद YS जगन करेंगे भगवान बालाजी के दर्शन, यह है कार्यक्रम

कृष्णा रेड्डी ने बताया कि वाईएस जगन ने अब तक 140 निर्वाचन क्षेत्र में 3600 किलोमीटर तक पदयात्रा की है। इस पदयात्रा के दौरान लगभग 2.40 करोड़ लोगो ने वाईएस जगन से भेंट की और अपनी समस्याएं और नवरत्नालु के लिए अमूल्य सुझाव दिये हैं।

महासचिव ने बताया कि 9 जनवरी बहुत ही ऐतिहासिक दिन होगा। क्योंकि उस वाईएसस जगन की लंबी प्रजा संकल्प यात्रा का भव्य समापन होगा। इसी के चलते आगामी 2 जनवरी को वाईएस जगन की पदयात्रा के समर्थन में प्रदेश भर में अनेक कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे।

गज्जल कृष्णा रेड्डी ने बताया कि वाईएसआर के निधन के बाद वाईएस जगन ने अनेक समस्याओं को सामना किया है। वर्ष 2019 प्रदेश के लिए बहुत ही महत्सवपूर्ण है। भ्रष्टाचार शासन का अंत करने का यह अच्छा मौका है। साथ ही वाईएस जगन मोहन रेड्डी मुख्यमंत्री बनना है।

कृष्णा रेड्डी आगे बताया कि श्रीकाकुलम जिले के इच्चापुरम में आयोजित आमसभा के बाद दुनिया की लंबी पदयात्रा का समापन होगा और उसी दिन वाईएस जगन तिरुपति के लिए रवाना होंगे। इसके अगले दिन वाईएस जगन पैदल मार्ग से जाकर भगवान बालाजी के दर्शन करेंगे।

सज्जल कृष्णा रेड्डी ने कहा कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर विशेष दर्जा का समर्थन करते है तो खुशी की बात है। चंद्रबाबू के असली चेहरे को जो भी उजागर करेगा हम उसका स्वागत करते है।

आपको बता दें कि वाईएस जगन ने वाईएसआर कड़पा जिले के पुलिवेन्दुला निर्वाचन क्षेत्र के इडुपुलपाया से 6 नवंबर, 2017 को पदयात्रा आरंभ की थी।