प्रजा संकल्प यात्रा के दौरान वाई एस जगन मोहन का आम लोगों से भावनात्मक रिश्ता कायम हो रहा है। भीड़ में शामिल बुजुर्ग उन्हें पोते के रूप में देखते हैं। तो महिलाओं के लिए वे भाई के समान हैं। लोगों को जगन मोहन से बात करने पर ऐसा लगता है जैसे अपने ही किसी पारिवारिक सदस्य से गुफ्तगू हो रही है। इतना प्यार और अपनापन पाकर जगन मोहन भी अभीभूत हैं। फिलहाल उनकी प्रजा संकल्प यात्रा विजयनगरम जिले के कुरुपम इलाके में चल रही है। हाल में ही तितली तूफान की वजह से किसानों का यहां बड़ा नुकसान हुआ। जिसकी भरपाई के लिए जगन मोहन ने मदद का वादा किया है। साथ ही बुजुर्गों को लगता है कि जगन मोहन के सत्ता में आने पर उन्हें पेंशन मिलेगा, युवाओं को नौकरी मिलेगी और महिलाओं का जीवनस्तर सुधरेगा।