विजयवाड़ा: YSR कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता अंबाति रामबाबू ने कहा है कि आंध्र प्रदेश के विभाजन के दौरान दिए गए आश्वासनों के हलफनामे को लेकर चंद्रबाबू जल्दबाजी कर रहे हैं। उन्होंने सवाल किया है कि प्रदेश को विशेष दर्जा नहीं दिया जाना, इसके लिए क्या चंद्रबाबू जिम्मेदार नहीं है? पैकेज की राशि के लिए चंद्रबाबू ने विशेष दर्जे के मुद्दे को क्या गिरवी नहीं रखा है?

रामबाबू ने कहा है कि विभाजन के दौरान दिए गए आश्वासनों को लेकर कांग्रेस के नेता सुधाकर रेड्डी ने सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर की है। काउंटर याचिका में बताया गया है कि विभाजन के दौरान दिए गए आश्वासनों को केंद्र ने पूरा किया है और आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा नहीं दिया गया।

इसे भी पढ़ें :

अंबाती रामबाबू का आरोप- समय आने पर केंद्र के साथ विश्वासघात करेंगे चंद्रबाबू

अंबाति ने कहा है कि प्रदेश के विकास को लेकर भाजपा ने विश्वासघात किया है तो चंद्रबाबू ने यह करने में भाजपा को परोक्ष रूप से सहयोग दिया है। उन्होंने कहा है कि विशेष दर्जे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जितने जिम्मेदार हैं, उतने ही जिम्मेदार चंद्रबाबू हैं। दोनों ने मिलकर प्रदेश के विकास को खाई में धकेला है। उन्होंने सवाल किया है कि गत चार वर्ष के कार्यकाल में चंद्रबाबू ने विजयवाड़ा में दुर्गा मंदिर के निकट फ्लाई ओवर नहीं बनाया और अब राजधानी का निर्माण क्या करेंगे?