श्रीनगर : नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी जम्मू एवं कश्मीर में सरकार बनाने का दावा नहीं पेश करेगी, क्योंकि उसके पास जनादेश नहीं है।

उन्होंने कहा, "मैंने अभी राज्यपाल से मुलाकात की है। मैंने उनसे कहा कि एनसी के पास 2014 में जनादेश नहीं था और न ही 2018 में है।"

यह भी पढ़ें :

जम्मू एवं कश्मीर के विशेष दर्जे से कोई समझौता नहीं : महबूबा मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर में टूटा बीजेपी-पीडीपी गठबंधन, महबूबा मुफ्ती ने दिया इस्तीफा

पूर्व मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा, "हम सरकार बनाने के लिए किसी से बातचीत नहीं कर रहे हैं। हमसे किसी ने संपर्क नहीं किया है। हम भी किसी से संपर्क नहीं करने वाले हैं।" उन्होंने कहा कि इस स्थिति में राज्यपाल शासन लागू होना चाहिए, लेकिन यह लंबे समय तक के लिए नहीं होना चाहिए।

उन्होंने कहा, "राज्य में राज्यपाल शासन लगाए जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। हमने राज्यपाल से जल्द चुनाव कराने का आग्रह किया है, ताकि लोग फैसला कर सकें कि वे किसे राज्य की सत्ता में लाना चाहते हैं।"

-आईएएनएस