अमरावती (आंध्र प्रदेश): वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि सरकार को किसानों की समस्याओं पर ज़रा भी ध्यान नहीं है। आंध्र प्रदेश विधानसभा के अनिश्चत काल के लिए स्थगित हो जाने के बाद उन्होंने मीडिया से बात की।

उन्होंने आरोप लगाया, "आंध्र प्रदेश की सरकार को पी.वी. सिंधु पर जितना प्यार है उतना प्यार किसानों पर नहीं है। एक सफल खिलाड़ी होने के नाते सिंधु के प्रति प्रेम भावना रखना गलत नहीं है। लेकिन समर्थन मूल्य के अभाव में किसान आए दिन खुदकुशी कर रहे हैं। फिर भी सरकार के कान में जूं तक नहीं रेंग रही है। मिर्ची की खरीद के लिए अभी तक मात्र 2 करोड़ रुपए दिए गए हैं। और आज ही से मार्केट यार्ड के लिए अवकाश भी घोषित किया गया। जब किसान बुरी तरह परेशान हैं, तो क्या कोई मार्केट यार्ड को बंद करने का फ़ैसला लेगा?"

बता दें कि मंगलवार को आंध्र प्रदेश की विधानसभा में विपक्ष के हंगामे के बीच जीएसटी विधेयक को पारित किया गया। उसके बाद बैडमिंटन स्टार पी.वी. सिंधु को डिप्यूटी कलेक्टर का पद देते हुए एक और प्रस्ताव को विधानसभा ने मंजूरी दी।

वाईएस जगन ने यह आरोप भी लगाया कि चंद्रबाबू की सरकार किसान विरोधी है। इस मौके पर उन्होंने सरकार के रवैए पर नाराज़गी प्रकट की कि वह किसानों की समस्याओं पर चर्चा करने से मुकर रही है। अमरावती के निर्माण में हो रहे भ्रष्टाचार और अन्य मुद्दों पर भी वाईएस जगन ने सरकार की खुलकर आलोचना की।