अमरावती : किसानों की आत्महत्या के मुद्दे पर आंध्रप्रदेश विधानसभा में विपक्षी नेता और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने सरकार को घेर लिया। उन्होंने पूरे आंकड़ों के साथ अपनी बात रखते हुए प्रदेश के कृषि मंत्री पुल्लाराव पर आरोप लगाया कि वो झूठों का सहारा ले रहे हैं। कर्ज माफी और इनपुट सब्सिडी के मामले में उन्होंने कई तथ्य पेश किए।

वाईएस जगन का आरोप था कि मंत्री इनपुट सब्सिडी के संबंध में गलत आंकड़े दे रहे हैं। उनका मानना है कि इनपुट सब्सिडी के अभाव में ही किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हो रहे हैं। इस दौरान जब वो किसानों की समस्याओं को लेकर अपनी बात रख रहे थे, उनका माइक काट दिया गया और सत्ता पक्ष के सदस्यों ने काफी शोर मचाते हुए उनकी आलोचना की। सभा में हंगामे की स्थिति निर्मित होने के कारण स्पीकर ने सदन को 10 मिनट के लिए स्थगित कर दिया।

ये भी पढ़ें:

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के दफ्तर में MLC प्रत्याशी की जीत का जश्न

‘चंद्रबाबू का विशेष दर्जे की मांग से मुकरना लोगों के साथ छलावा’

‘वोट के बदले नोट’ कांड में फंसे चंद्रबाबू फौरन इस्तीफा दें : YSRCP

नोटबंदी के खिलाफ हड़ताल को सफल बनाने पर वाईएस जगन ने जनता को दिया धन्यवाद

किसान आत्महत्याओं के मुद्दे पर बहस के दौरान वाईएस जगन ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों की वजह से ही किसान खुदकुशी कर रहे हैं। जगन ने बताया कि सरकार ने 87,612 करोड़ रुपए का कर्ज माफ करने का वादा किया था लेकिन अब तक किसानों को 10 करोड़ भी नहीं दिया गया। उन्होंने सवाल उठाया कि किसानों ने पिछले तीन सालों में 48 हजार रुपए का ब्याज चुकाया है तो सालाना 3 हजार करोड़ रुपए से काम कैसे चलेगा।

जगन ने मंत्री पर गलत आंकड़े पेश कर सदन को गुमराह करने का इलज़ाम लगाते हुए कहा कि अगर मंत्री को गणित में कोई दिक्कत है तो वह उनकी मदद कर सकते हैं।