हैदराबाद : भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा आज अपना 33वां जन्मदिन मना रही है। सानिया मिर्जा का जन्म आज ही के दिन 1986 में हुआ था। अपने खेल से सभी को प्रभावित करने वाली सानिया ने अपने करियर की शुरुआत महज 14 वर्ष की उम्र में की थी। मुंबई में जन्म लेने वाली मिर्जा का बचपन हैदराबाद में गुजरा और हैदराबाद में ही इस खिलाड़ी ने टेनिस भी खेलना शुरु किया।

आज सानिया मिर्जा का जन्मदिन है आइए जानते हैं उनसे जुड़ी बातें....

- सानिया ने अपने करियर की शुरुआत साल 1999 में करने के बाद वर्ष 2000 में सानिया ने पाकिस्तान में खेले गए इंटेल जूनियर चैंपियनशिप जी-5 मुकाबले में सिंगल और डबल गेम में जीत हासिल की। डबल मुकाबलों में सानिया की जोड़ी पाकिस्तान के जाहरा उमर खान के साथ थी।

- वर्ष 2003 से 2013 लगातार एक दशक तक उन्होंने महिला टेनिस (Tennis) संघ (डब्ल्यू टी ए) के एकल और डबल में शीर्ष भारतीय टेनिस (Tennis) खिलाड़ी के रूप में अपना स्थान बनाए रखने में सफल रही और उसके बाद एकल प्रतियोगिता से उनकी सेवानिवृत्ति के बाद शीर्ष स्थान पर अंकिता रैना विराजमान हुई।

- साल 2003 उनके जीवन का सबसे रोचक मोड़ बना जब भारत की तरफ से वाइल्ड कार्ड एंट्री करने के बाद सानिया मिर्ज़ा ने विम्बलडन में डबल्स के दौरान जीत हासिल की। वर्ष 2004 में बेहतर प्रदर्शन के लिए उन्हें 2005 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया।

- केवल 18 वर्ष की आयु में वैश्विक स्तर पर चर्चित होने वाली इस खिलाड़ी को 2006 में 'पद्म श्री' पुरस्कार से सम्मानित किया गया। सानिया यह सम्मान पाने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी हैं और उन्हें 2006 में अमेरिका में विश्वस्तर पर टेनिस दिग्गज हस्तियों के बीच डब्लूटीए का 'मोस्ट इम्प्रेसिव न्यू कमर एवार्ड' प्रदान किया गया था।

- साल 2005 के अंत में उनकी अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग 42 हो चुकी थी जो किसी भी भारतीय टेनिस खिलाड़ी के लिए सबसे ज्यादा थी। 2009 में वह भारत की तरफ से ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनीं।

- बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि सानिया के पिता एक खेल संवाददाता थे। सानिया ने अपनी शुरुआती टेनिस की कोचिंग महेश भूपति के पिता और भारत के सफल टेनिस प्लेयर सीके भूपति से ली थी।

- अक्टूबर 2005 में टाइम पत्रिका के द्वारा सानिया को एशिया के 50 नायकों में नामित किया गया था। मार्च 2010 में एक समाचार पत्र के द्वारा उन्हें भारत की गौरवान्वित 33 महिलाओं की सूची में अंकित किया गया। वर्तमान में सानिया तेलंगाना राज्य की 'ब्रांड एंबेसडर' हैं।

- सानिया मिर्जा का पारिवारिक पृष्ठभूमि खेलों से जुड़ा रहा है। उनके पिता इमरान मिर्जा प्रख्यात क्रिकेट खिलाड़ी गुलाम अहमद के रिश्ते में भाई हैं और वे स्वयं भी हैदराबाद सीनियर डिवीजन लीग के खिलाड़ी रह चुके हैं। सानिया के मामा फैयाज हैदराबाद रणजी टीम में विकेट कीपर रह चुके हैं।

- सानिया का विवादों से भी नाता रहा। मुस्लिम परिवार से होने के कारण साल 2005 में एक मुस्लिम समुदाय ने उनके खेलने के खिलाफ फतवा तक जारी कर दिया था इस सामुदाय ने टेनिस खेलते समय सानिया के कपड़े को लेकर आपत्ति जताई थी। इतना ही नहीं पाक क्रिकेटर शोएब मलिक के साथ शादी रचाने के बाद उनकी काफी आलोचना हुई थी।

- सानिया मिर्जा ने "सानिया मिर्जा टेनिस अकादमी" की भी स्थापना की है, जो भारतीय टेनिस खिलाड़ियों के लिए विश्व स्तर की टेनिस (Tennis) प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से मार्च 2013 में शुरू किया गया था।

इसे भी पढ़ें :

...जब सानिया मिर्जा के पति शोएब मलिक ने तोड़े शीशे, देखें Video

32 बरस की उम्र में 4 घंटे प्रैक्टिस करती हैं सानिया मिर्जा, प्रेग्नेंसी के बाद घटाया 26 किलो वजन

- सानिया मिर्जा और शोएब मलिक की पहली मुलाकात ऑस्ट्रेलिया के एक रेस्तरां में हुई थी। साल 2010 में सानिया ऑस्ट्रेलिया के होबार्ड में टूर्नामेंट खेलने गई थीं और शोएब भी अपनी टीम के साथ वहीं थे। सानिया अपने पिता इमरान मिर्जा और कोच लेन के साथ एक इंडियन रेस्तरां में डिनर के लिए गई थीं।

- इस मुलाकात के बाद दोनों फोन पर बात करते रहे। कुछ महीने बाद शोएब ने सानिया के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। शोएब ने सानिया को कहा था कि चाहे जब भी हो, शादी तुमसे ही करनी है। मैं ये बात अपनी मां को बताने जा रहा हूं। सानिया को भी यह बात अच्छी लगी कि शोएब ने सीधे-सादे अंदाज में प्रपोज किया। फिर दोनों ने शादी कर ली।