पुणे : आखिरी दो मिनट में चेन्नई चैलेंजर्स ने बेहतरीन खेल दिखा इंडो-इंटरनेशनल प्रीमियर कबड्डी लीग (आईपीकेएल) में मंगलवार को पूरे मैच में अधिकांश समय हावी रही तेलुगू बुल्स को रोमांचक मुकाबले में 33-32 से हरा दिया। इस मैच में पहले मिनट से लेकर मैच खत्म होने से दो मिनट पहले तक तेलुगू हावी थी लेकिन चेन्नई ने तेलुगू को ऑल आउट कर बढ़त ले जीत हासिल की।

38वें मिनट तक तेलुगू 29-30 से आगे थी और यहां चेन्नई ने तेलुगू को ऑल आउट कर स्कोर 32-30 कर मैच में वापसी की और अंतत: जीत हासिल की। सही मायनों में देखा जाए तो चेन्नई ने आखिरी के क्वार्टर में दमदार खेल दिखाया। वह इस क्वार्टर में 21-26 से पिछड़ते हुए आई थी। उसने धीरे-धीरे अंकों के अंतर को खत्म करना शुरू किया। 26-30 के स्कोर से उसने लगातार तीन अंक ले स्कोर 29-30 किया और फिर तेलुगू को ऑल आउट कर जीत के दरवाजे खोले।

इससे पहले, तेलुगू ने दमदार शुरुआत करते हुए पहले क्वार्टर में 3-0 की बढ़त ले ली और फिर उसे 5-0 तक पहुंचा दिया। नामदेव इस्वाल्कर ने बोनस अंक लेकर चेन्नई का खाता खोला। तेलुगू हालांकि लगातार अंक ले रही और चेन्नई ऐसा कर नहीं पा रही थी। तेलुगू ने छठे मिनट में चेन्नई को ऑल आउट कर अपने स्कोर को 10-3 तक पहुंचा दिया। इस क्वार्टर के अंत तक तेलुगू हावी रही और 10-7 के साथ उसने क्वार्टर का अंत किया।

दूसरे क्वार्टर में भी कहानी नहीं बदली और तेलुगू हावी रही। तेलुगू ने आने के कुछ ही देर बाद स्कोर 14-9 कर लिया और फिर अपनी बढ़त को 12-19 तक ले गई। आखिरी मिनट में सुपर टैकल कर चेन्नई ने अपने खाते में दो अंक डाले, लेकिन वह तेलुगू को 19-14 के स्कोर के साथ दूसरे क्वार्टर का अंत करने से नहीं रोक पाई।

तीसरे क्वाटर्र में चेन्नई ने बेहतर खेल दिखाया। उसने अंकों के अंतर को कम करने की कोशिश और कुछ हद तक सफल रही। तेलुगू हालांकि लगातार अंक लेकर अंतर को बनाए रखे थी। क्वार्टर के आखिरी मिनटों में चेन्नई ने तेजी से अंक ले स्कोर 21-24 कर लिया लेकिन तेलुगू को आखिरी मिनट में दो अंक मिले जिससे वो 26-21 के साथ क्वार्टर का अंत करने में सफल रही।

इसे भी पढ़ें :

IPL 2019 : चेन्नई को हराकर मुंबई चौथी बार बना चैंपियन, आखिरी गेंद पर विकेट लेकर छाए मलिंगा

इस तीसरे क्वार्टर से मिले आत्मविश्वास ने उसे चौथे क्वार्टर में मजबूत किया और वह जीत हासिल करने में सफल रही।