नई दिल्ली : भारत की अपूर्वी चंदेला ने यहां जारी आईएसएसएफ निशानेबाजी विश्व कप में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में शनिवार को विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीत लिया। अपूर्वी ने 252.9 अंक लेकर नए विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

चीन की निशानेबाजों ने रजत और कांस्य पदक जीता। झौ रॉझु ने 251.8 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहकर रजत और उनकी हमवतन झू होंग ने 230.4 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहकर कांस्य पदक पर कब्जा जमाया।

पिछले साल टोक्यो ओलम्पिक-2020 का कोटा हासिल कर चुकी अपूर्वी का विश्व कप में यह व्यक्तिगत पदक है।

अपूर्वी चंदेला
अपूर्वी चंदेला

उन्होंने 2015 में चांगवान में हुए विश्व कप में कांस्य और उसी साल आईएसएसएफ विश्व कप में फाइनल्स में रजत पदक जीता था।

अपूर्वी ने पिछले साल राष्ट्रमंडल खेलों में 10 मीटर एयर राइफल में कांस्य पदक जीता था। उन्होंने एशियाई खेलों में 10 मीटर एयर राइफल मिश्रित टीम स्पर्धा में भी रवि कुमार के साथ मिलकर कांस्य पदक हासिल किया था।

अपूर्वी और अंजु मोदगिल ने पिछले साल सितम्बर में दो ओलम्पिक कोटा हासिल किया था। दोन निशानेबाज विश्व चैम्पियनशिप में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में क्रमश : चौथे और दूसरे नंबर पर रही थी।

यह भी पढ़ें:

अंकुर मित्तल ने दिखाया कमाल, डबल ट्रैप में जीता स्वर्ण पदक

निशानेबाजी विश्व कप : भारत को मिले 2 स्वर्ण पदक

अपूर्वी ने शुक्रवार को क्वालिफिकेशन राउंड में 629.3 का स्कोर किया था और वह चौथे स्थान पर रहते हुए फाइनल के क्वालीफाई की थी।

चीन की झाओ रौझु 634 अंक लेकर विश्व रिकॉर्ड के साथ पहले, उनकी हमवतन झु यिंगजी 630.8 अंकों के साथ दूसरे और सिंगापुर की हो झि यी 629.3 के स्कोर के साथ तीसरे स्थान पर थी।

अन्य भारतीयों में मोदगिल और एलावेनिल वलारियन फाइनल में पहुंचने से चूक गईं। मोदगिल 628 अंकों के साथ 12वें और वलारियन 625.3 अंकों के साथ 30वें नंबर पर रहीं।

क्वालीफिकेशन में शीर्ष-8 निशानेबाज ही फाइनल के लिए क्वालीफाई कर पाई।