तेलंगाना के दस साल के लड़के ने पश्चिमी घाट पर सबसे कठिन पहाड़ों की चढ़ाई की

Ten-year-old Telangana boy treks toughest mountains on Western Ghats - Sakshi Samachar

न अनुभव और न ही कोई ट्रेनिंग ली 

बीसीएफ की मदद से पूरी की चढ़ाई

हैदराबाद: शहर के रहने वाले सिर्फ 10 साल के सिद्धार्थ रेड्डी ने कर्नाटक (Karnataka) के पश्चिमी घाट पर दो सबसे ऊंचे पहाड़ों की चढ़ाई कर एक रिकॉर्ड बनाया है। इन दोनों पहाड़ों की चढ़ाई को सबसे कठिन माना जाता है। सिद्धार्थ ने मंगलुरु जिले के कुमार पर्वत जो 5,617 फीट और कूर्ग जिले के तडियनडामोल पर्वत जो 5,735 फीट उंचा है, उस पर में एक दिन में चढ़ाई की है।

खास बात यह है कि सिद्धार्थ को न तो कोई अनुभव था और न ही इसके लिए उन्होने ट्रेनिंग ली। सिद्धार्थ हैदराबाद के लालगुडा में थक्षशीला पब्लिक स्कूल में कक्षा 5 का छात्र हैं और उनके पिता संतोष रेड्डी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) में विकास प्रबंधक के रूप में काम करते हैं।

सिद्दार्थ का कहना है कि उन्होंने 15 जनवरी को श्री सुब्रमण्या मंदिर से शाम 5 बजे ट्रेकिंग की शुरुआत की थी। छह किलोमीटर चलने के बाद पहाड़ों में रात बितानी पड़ी, क्योंकि सेना के अधिकारी रात के दौरान ट्रेकिंग की अनुमति नहीं देते थे। इसके बाद उन्होंने 16 जनवरी को सुबह 5 बजे शुरू किया और दोपहर 3 बजे पहला पहाड़ कुमारा पर्वत पूरा किया। 17 जनवरी को सुबह 6 बजे, उन्होंने तडियनडामोल की ट्रेकिंग शुरू की और शाम को पुष्पगिरी वन्यजीव अभयारण्य में इसे पूरा किया।

यह भी पढ़ें: तेलंगाना के निर्मल में कोरोना वैक्सीन लेने के बाद हुई मौत की जांच के लिए कमिटी गठित

सिद्दार्थ के पिता संतोष रेड्डी का कहना है कि सिद्दार्थ को शटलर बैडमिंटन का भी शौक हैं और पिछले दो वर्षों से हैदराबाद के तराना के एसएस बैडमिंटन अकादमी में कोचिंग कर रहे हैं। सिद्दार्थ फिटनेस का स्तर बहुत अच्छा है। जिसके चलते बैडमिंटन अकादमी ने सिद्दार्थ ने ट्रेकिंग का प्रयास सुझाव दिया। इसके बाद सिद्दार्थ ने बीसीएफ की मदद से इस यात्रा को पूरा किया। सिद्दार्थ अपने लक्ष्यों पर बहुत स्पष्ट है और बैडमिंटन में महान ऊंचाइयों को बढ़ाना चाहता है। 

Advertisement
Back to Top