स्कूलों में आज से लौटी रौनक, ऐहतियात के साथ 6वीं से 8वीं तक के बच्चे जाएंगे स्कूल

Telangana Schools Reopen for class 6 to class 8 From Today - Sakshi Samachar

कक्षा 6 से 8 तक के बच्चे जा सकेंगे स्कूल

आज से स्कूलों में होगी छठवीं से आठवीं क्लास तक की पढ़ाई

प्रशासन ने स्कूल प्रबंधनों को जारी किए सख्त दिशा-निर्देश

हैदराबाद : करीब एक साल के बाद तेलंगाना (Telangana) में आज से कक्षा 6 से 8 तक के बच्चों के लिए स्कूल (School) खुल गए हैं। मुख्यमंत्री केसीआर (KCR) के निर्देश के बाद राज्य के सभी स्कूलों में बुधवार से छठी, सातवीं और आठवीं की क्लास शुरू हो गई। हालांकि स्कूल प्रबंधनों को पारंपरिक क्लास चलाने के लिए 1 मार्च तक का समय दिया गया है। शिक्षा मंत्री पी. सबिता रेड्डी ने स्कूल प्रबंधन को कोरोना वायरस (Coronavirus) से बच्चों की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं, जिसका पालन करते हुए कक्षाएं शुरू की जाएंगी।

मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने मंगलवार को जिला स्तर के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। सोमेश कुमार ने पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक कल्याण, आदिवासी कल्याण और अनुसूचित जाति सहित स्कूली शिक्षा विभागों के अधिकारियों के साथ-साथ जिला कलेक्टरों, जिला शिक्षा आधिकारियों और जिला कल्याण अधिकारियों के साथ स्कूली कक्षाओं के प्रबंध की समीक्षा की।

मुख्य सचिव ने बताया कि मौजूदा संख्या के अलावा लगभग 17.24 लाख छात्र छठवीं से आठवीं तक की कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस दौरान बच्चों और शिक्षकों की सुरक्षा के व्यापक इंतजाम होने चाहिए। लॉकडाउन के बाद पहली बार खुलने वाले स्कूलों के लिए विशेष प्रबंध होने चाहिए।

शिक्षा मंत्री ने जारी किया आदेश

शिक्षा मंत्री पी. सबिता रेड्डी ने संबंधित विद्यालय प्रबंधकों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि वो छात्रों को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं करें। शिक्षकों के साथ ही छात्रों द्वारा भी कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन सुनिश्चित करने का मंत्री ने निर्देश दिया है। सरकारी के साथ ही निजी स्कूलों में सफाई को प्राथमिकता देने पर सबिता इंद्रा रेड्डी ने जोर दिया। मंत्री ने खासकर बच्चों से अपील की है कि वो स्कूल में मास्क जरूर लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करें। 

सरकार की ओर से जारी आदेश के मुताबिक कक्षा 6,7,8 के लिए ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था भी जारी रहेगी। ताकि जो बच्चे स्कूल नहीं जा पाएंगे वो घर से ही पहले की तरह ऑनलाइन पढ़ाई कर सकते हैं। मंत्री के मुताबिक अब 8,891 सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की व्यवस्था सुचारू हो पाएगी। साथ ही निजी स्कूलों के 8,28,516 बच्चे और 1157 गुरुकुल शिक्षण संस्थानों के 1,98,853 बच्चे अब स्कूल जा सकेंगे। 

Advertisement
Back to Top