महात्मा गांधी के सिद्धांतों का प्रचार करने निकले तमिल दंपति, तेलंगाना के इलाके में फंसे

Tamil Nadu couple set out on journey to propagate principles of Mahatma Gandhi - Sakshi Samachar

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सिद्धांतों का प्रचार

एक लाख किलोमीटर तक यात्रा करने का लक्ष्य

हैदराबाद : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सिद्धांतों का पूरे देश में प्रचार करने के उद्देश्य से मदुरै निवासी एक दंपति ने तमिलनाडु के इरोड से यात्रा आरंभ की, मगर लॉकडाउन के कारण अब वे हैदराबाद के सीमांत क्षेत्र आकर में फंस गये। 

मदुरै निवासी कुरुपय्या और उनकी पत्नी चित्रा ने इरोड से 26 जनवरी को अपनी यात्रा आरंभ की थी। उन्होंने बताया कि 25 मार्च को हैदराबाद पहुंचना उनका लक्ष्य था। जब वे विजयवाड़ा पहुंचे तब उनका वहां पर भव्य स्वागत किया गया। खासकर छात्रों ने उनकी विचारधारा से प्रभावित होकर कुछ दिन और रहने का आग्रह भी किया। 

दंपति ने आगे कहा कि जब लॉकडाउन घोषित किया गया था तब यात्रा पर थे। मगर उन्हें लॉकडाउन की कोई जानकारी नहीं थी। यात्रा के दौरान शिक्षण संस्थाओं एवं मंदिर समुदायों द्वारा उनके रहने की व्यवस्था भी की गई। हालांकि कुछ जगहों पर लोगों ने इसका विरोध भी किया। उन्हें इस बात का डर था कि कहीं उनके कारण कोरना संक्रमण न फैले। इसके कारण पिछले 15 दिनों से हैदराबाद के सीमांत क्षेत्र स्थित काली मंदिर में रह रहे हैं। 

यह भी पढ़ें :

कोरोना वायरस से ये हैं चुनौतियां, सोशल डिस्टेंसिंग फिलहाल एकमात्र समाधान

उन्होंने बताया कि कुछ दिन पूर्व हुई भारी वर्षा के कारण उनका सामान भीग गया है। यहां तक कि उनकी साइकिल भी कुछ हद तक खराब हो गई है। उन्होंने बताया कि महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती के संदर्भ में पूरे देश में एक लाख किलोमीटर तक यात्रा करने का लक्ष्य रखा है। 

पुलिस विभाग के अलावा अन्य स्वयंसेवी संगठन और सदस्य उन्हें हर संभव सहायता उपलब्ध करवा रहे हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की समाप्ति के बाद वे राज्यपाल तमिलिसाई सौंदराराजन से मुलाकात कर गांधी पार्क देखेंगे। इसके बाद तमिलनाडु के लिए रवाना हो जाएंगे।

 

Advertisement
Back to Top