बोइनपल्ली किडनैपिंग केस : मुख्य आरोपी अखिला प्रिया को कोर्ट से मिली जमानत

Secunderabad  Court sanctions bail for bhuma akhila priya in bowenpally kidnap case - Sakshi Samachar

 हैदराबाद : बोइनपल्ली किडैपिंग केस ( Bowenpally Kidnaping Case) की मुख्य आरोपी भूमा अखिला प्रिया (Bhuma Akhila Priya) को सिकंदराबाद कोर्ट (Secunderabad) ने सशर्त जमानत (Bail) दे दी है। वे इस केस में पिछले 17 दिनों से चंचलगुडा जेल (Chanchalguda Jail) में बंद थी। अखिला प्रिया को सिकंदराबाद कोर्ट ने दस हजार के मुचलके और दो जमानतियों की गारंटी पर जमानत दिया है। उम्मीद जताई जा रही है कि वो कल रिहा हो सकती है। वहीं अखिला प्रिया के पति भार्गवराम की  अग्रिम जमानत के लिए दायर की गई याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी है। 

गौरतलब है कि बीते 5 जनवरी को प्रवीण राव और उनके दो भाईया को हैदराबाद के बोइनपल्ली में भूमा और उसके साथियों ने किडनैप कर  लिया था। इसके अगले दिन पुलिस ने अखिला प्रिया को गिरफ्तार किया ता। वह तभी से रिमांड में थी। कोर्ट ने उसे 3 दिनों के लिए पुलिस कस्टडी में सौंपने दिया था। इस दौरान पुलिस ने अखिलाप्रिया से काफी अहम जानकारियां मिली। पुलिस ने इंट्रोग्रेशन के दौरान उनसे कई सवाल किए मसलन कैसे अपहरण हुआ किडनैपिंग में कौन कौन शामिल था इस किडनैपिंग में किसकी अहम भूमिका है आरोपी कहा थे जैसे तमाम सवाल ने पुलिस ने अखिला से पूछे। इस मामले में पुलिस ने अखिलाप्रिया समेत कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

इस केस के कुछ आरोपी अभी भी फरार चल रहे है। इनमें अखिलप्रिया के पति भार्गवराम, गुंटूर श्रीनू, जगनविकेत रेड्डी, किरणमयी और चंद्रहास का नाम शामिल है। इस अपहरण मामले में भूमा अखिलप्रिया ए 1 है। उनके पति भार्गवराम, भाई जगत विकीत रेड्डी और गुंटूर शीन मुख्य अपराधी थे। 

बता दें कि पुलिस ने इस बात की जानकारी दी थी कि अखिला प्रिया और प्रवीण राव के बीच हैदराबाद के हाफीजपेट में 48 एकड़ भूमि को लेकर विवाद चल रहा था। इसी वजह से अखिला ने प्रवीण राव और उनके भाईयों का अपहरण करवाया था। किडनैपिंग की घटना को  कूकटपल्ली के लोढ़ा अपार्टमेंट में अंजाम दिया गया था। 
 

Advertisement
Back to Top